चालान:ब्लड बैंक में एलाइजा व एसडीपी किट का स्टाॅक पहुंचा प्लाज्मा अलग करने की किटें बेचने का रिकॉर्ड नहीं

जालंधर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • तीन केस आने से डेंगू के मरीजों का आंकड़ा 105 पार, सेंट्रल जोन से लारवा मिलने पर 13 चालान

जिला सेहत विभाग के अधीन आते आईडीएसपी विभाग के डेंगू के संक्रमित मरीजों के आंकड़ों में बुधवार को तीन केसों का इजाफा हुआ है। इसके साथ ही कुल संक्रमितों की संख्या 105 पहुंच गई है। इस बात की पुष्टि जिला एपिडिमोलाॅजिस्ट डाॅ. आदित्य पाल सिंह ने की है। वहीं नगर निगम की हेल्थ ब्रांच के डाॅ. वरिंदर रत्न, एसआई रमन, एसआई पवन और सिविल अस्पताल की मलेरिया टीम ने सेंट्रल जोन से लारवा मिलने पर 13 चालान काटे हैं। उधर, सिविल अस्पताल के ब्लड बैंक की समस्या बुधवार को सुलझ गई है। ब्लड बैंक में खून टेस्ट करने के लिए एलाइजा और सिंगल डोनर प्लाज्मा (एसडीपी) किटें आ गई हैं।

बीते 48 घंटे में मरीजों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा था। अब ब्लड बैंक से मरीजों के परिजनों को ब्लड की पूर्ति की जा रही है। दूसरी तरफ, एसडीपी किटों की खरीद को लेकर नया खुलासा हुआ है कि प्राइवेट अस्पतालों में 11 हजार से 14 हजार रुपए में भेजी जा रही एसडीपी किट का सरकारी खाते में रिकॉर्ड नहीं है। क्लेरिकल विभाग का कहना है कि ब्लड बैंक में इस्तेमाल होने वाली किटों का बजट सेहत विभाग की तरफ से नहीं आया।

खबरें और भी हैं...