टेंशन बढ़ेगी:12वीं के छात्रों की बढ़ेगी परेशानी, क्लैश होंगे सीबीएसई प्री बोर्ड एग्जाम और क्लैट

जालंधर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
केंद्रीय बोर्ड के 12वीं कक्षा के छात्र पांच साल के इंटीग्रेटेड बीए एलएलबी (ऑनर्स) के लिए क्लैट की परीक्षा देते - Dainik Bhaskar
केंद्रीय बोर्ड के 12वीं कक्षा के छात्र पांच साल के इंटीग्रेटेड बीए एलएलबी (ऑनर्स) के लिए क्लैट की परीक्षा देते
  • एग्जाम सेंटर शहर से बाहर मिलने पर बढ़ेगी दिक्कत
  • आज जारी होंगे 18 दिसंबर के कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट के एडमिट कार्ड

2022 के अंत में सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) के प्री बोर्ड एग्जाम और कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट (क्लैट) में क्लैश होने से विद्यार्थियों पर असर पड़ेगा। 18 दिसंबर को क्लैट है और इसी महीने केंद्रीय बोर्ड के प्री बोर्ड एग्जाम होने हैं। क्लैट का आयोजन कंसोर्टियम ऑफ नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज की ओर से किया जाता है। प्री बोर्ड एग्जाम स्कूल स्तर पर होते हैं।

क्लैट में 12वीं के एग्जाम में अपीयर होने वाले स्टूडेंट्स पात्र होते हैं। ऐसे में बड़ी संख्या में छात्र क्लैट में बैठते हैं। ज्यादातर प्री बोर्ड एग्जाम स्कूल स्तर पर अमूमन दिसंबर में होते हैं। इस साल सीबीएसई के मुख्य एग्जाम कोविड से पहले के पैटर्न पर होंेगे। मुख्य परीक्षा की तैयारियों के लिए प्री बोर्ड एग्जाम महत्वपूर्ण हैं। तारीखों में क्लैश होने के कारण छात्रों को क्लैट या फिर प्री बोर्ड के एक या दो पेपर्स छोड़ने पड़ सकते हैं। क्लैट के लिए एडमिट कार्ड आज जारी किए जाएगें।

एग्जाम सेंटर शहर से बाहर मिलने पर बढ़ेगी दिक्कत

क्लैट देश के विभिन्न शहरों में आयोजित किया जाएगा। अगर छात्र को अपने शहर के बाहर का परीक्षा केंद्र मिलता है तो आने जाने में समय व्यर्थ होगा। ऐसे में छात्र के प्री बोर्ड के दो पेपर्स तक छूट सकते हैं। संबंधित शहर में केंद्र मिलने से छात्र का एक ही पेपर छूटेगा। क्लैट के एडमिट कार्ड जारी होने के साथ ही छात्रों को परीक्षा केंद्र का पता चलेगा। क्लैट की पात्रता के अनुसार 12वीं में छात्रों का पास होना जरूरी है। न्यूनतम अंकों की बाध्यता नहीं है। क्लैट-2023 में 12वीं का एग्जाम देने वाले छात्रों को भी पात्र घोषित किया है, लेकिन एडमिशन के समय उन्हें 12वीं का पासिंग सर्टिफिकेट संबंधित नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी को दिखाना होगा। क्लैट में उम्र की बाध्यता नहीं रखी है। केंद्रीय बोर्ड के 12वीं कक्षा के छात्र पांच साल के इंटीग्रेटेड बीए एलएलबी (ऑनर्स) के लिए क्लैट की परीक्षा देते हैं। 22 एनएलयू सहित अन्य लॉ इंस्टीट्यूट भी क्लैट के स्कोर पर दाखिला देते हैं।

खबरें और भी हैं...