पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जालंधर के PUDA कॉम्पलेक्स में करंट से दो मजदूर मरे:पहले दिन ही काम करने आए थे मृतक, जेनरेटर की तार लोहे की सीढ़ी से टकराई तो आए चपेट में; तीसरा साथी बाल-बाल बचा

जालंधर2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जालंधर में करंट लगने से मारे गए उत्तर प्रदेश के कन्हैया लाल  का भाई। - Dainik Bhaskar
जालंधर में करंट लगने से मारे गए उत्तर प्रदेश के कन्हैया लाल का भाई।

जालंधर के PUDA कॉन्प्लेक्स में करंट लगने से उत्तर प्रदेश के रहने वाले दो मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई, जबकि तीसरा बाल-बाल बच गया। जिन दो मजदूरों की मौत हुई, वह इस कंस्ट्रक्शन साइट पर पहले दिन ही काम करने के लिए आए थे। शुरुआती जांच में पता चला है कि जेनरेटर से निकलने वाली बिजली की तार लोहे की सीढ़ी से टकरा गई, जिसकी वजह से यह हादसा हुआ। घटना का पता चलते ही बिजली अफसर मौके पर पहुंचे और तुरंत सप्लाई बंद की।

एक मृतक कन्हैया लाल की उम्र 32 साल है और वह शादीशुदा है। कन्हैया लाल उत्तर प्रदेश के बहराइच का रहने वाला है। वहीं, दूसरे मृतक की अभी तक शिनाख्त नहीं हो पाई है। करंट से बाल-बाल बचे कानपुर के मुन्नू ने बताया कि वह ऊपर काम कर रहे थे। जब शाम को तीनों नीचे उतर रहे थे तो अचानक सीढ़ी पर करंट आ गया। वह करंट से दूरबजा गिरा जबकि बाकी दोनों मजदूर सीढ़ी से ही चिपक गए, जिसके बाद उनकी मौत हो गई। मौके पर पहुंचे पावरकॉम के अफसरों ने बताया कि मजदूरों को जिस सीढ़ी पर चढ़ाकर काम लिया जा रहा था, वह लोहे की थी और उसे जेनरेटर के बगल में ही रखा गया था। सीढ़ी के नीचे अचानक जेनरेटर की तार आ गई और वह तार वहां से छिल गई। जिसके बाद करंट सीढ़ी में आ गया और 2 मजदूरों को लग गई।

घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों लाशों को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया गया है। यह भी पता चला है कि यहां काम करवाने वाला ठेकेदार हादसे के पता चलने के बाद मौके पर रहने के बजाय वहां से खिसक गया। फिलहाल पुलिस मृतकों के परिजनों के बयान दर्ज कर रही है, ताकि आगे की कार्रवाई की जा सके।

खबरें और भी हैं...