पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

इंप्लाइज स्टेट इंश्योरेंस कार्पोरेशन:लॉकडाउन में बेरोजगार ईएसआईसी धारकों को 3 महीने तक मिलेगी 50 फीसदी सैलरी, 31 दिसंबर तक ईएसआईसी के पोर्टल पर कर सकते हैं अप्लाई

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

इंप्लाइज स्टेट इंश्योरेंस कार्पोरेशन (ईएसआईसी) के अधीन आने वाले कर्मचारियों के लिए राहत की खबर है। लॉकडाउन में जिन ईएसआईसी कार्ड धारकों की नौकरी गई है, या वह बेरोजगार हुए हैं उन्हें अब अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के तहत ईएसआईसी विभाग बेरोजगार राहत भत्ता (आपकी सैलरी का 50 फीसदी) देगा। यह प्रावधान केवल उन कर्मचारियों के लिए है जिनके पास ईएसआईसी का इंश्योरेंस नंबर मौजूद है।

जालंधर ईएसआईसी के सब-रीजनल अफसर के डिप्टी डायरेक्टर (इंचार्ज) राकेश कुमार ने बताया कि अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना ईएसआईसी का 2018 का पायलट प्रोजेक्ट है। विभाग ने कोविड के चलते इसमें कुछ बदलाव कर किए हें। साइट पर रजिस्ट्रेशन करवाने के बाद कर्मचारी की डिटेल वेरिफाई के बाद 15 दिन में खाते में क्लेम ट्रांसफर कर दिया जाता है। योजना के अधीन केवल उन्हीं धारकों को 50 फीसदी सैलरी का लाभ मिलेगी जो पिछले 2 साल से रेगुलर ईएसआईसी विभाग के अधीन आ रहे हो और काम कर रहे है। इसके अलावा लाभपात्री का 2 कोंट्रीब्यूशन पीरिड्स का भी पूरा होना जरूरी है। यानी फेनाइशियल इयर के दोनो पीरियड्स को मिलाकर 78 दिन तक ईएसआईसी के अधीन लाभपात्री का रजिस्टर्ड होना अनिवार्य है। जालंधर, अमृतसर, होशियारपुर, गुरदासपुर, कपूरथला, तरनतारण और पठानकोट में वर्तमान में ईएसआई के करीब 3.72 लाख लाभपात्री हैं। जो लॉकडाउन के चलते बेरोजगार हुए वह भी अप्लाई कर सकते हैं।

ऐसे करें अप्लाई

1. इंश्योरेंस पर्सन लाभपात्री www.esic.in में लॉग इन करे। 2. बीमा कोड और कैप्चा भरकर अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना पर क्लिक करें। 3. आईपी कोड़ और कब से कब तक बेरोजगार रहे इसकी पूरी डिटेल भरे। 4. आधार कार्ड और बैंक डिटेल अपलोड़ करें।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उन्नतिकारक है। आपकी प्रतिभा व योग्यता के अनुरूप आपको अपने कार्यों के उचित परिणाम प्राप्त होंगे। कामकाज व कैरियर को महत्व देंगे परंतु पहली प्राथमिकता आपकी परिवार ही रहेगी। संतान के विवाह क...

और पढ़ें