पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

संभलकर चलें:13 हजार लोगों के लाइसेंस की वैलिडिटी खत्म, फिर भी दौड़ा रहे वाहन, इनमें से 6 हजार अनट्रेंड

जालंधर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ऑनलाइन ड्राइविंग टेस्टिंग ट्रैक। - Dainik Bhaskar
ऑनलाइन ड्राइविंग टेस्टिंग ट्रैक।
  • 30 जून तक लाेगाें काे लाइसेंस सहित अन्य दस्तावेज कंप्लीट करने के लिए मिली है राहत

कोरोना महामारी के चलते सरकारी दफ्तराें में मुलाजिमाें की संख्या 50 फीसदी करने के साथ ही अपाॅइंटमेंट स्लाॅट कम हाेने के चलते लाइसेंसाें की पेंडेंसी बढ़ती जा रही है। काेराेना काल में करीब 6 हजार लर्निंग और 7 हजार रिन्यूअल लाइसेंसाें की पेंडेंसी बनीं हुई है। ऐसे में प्रतिदिन करीब 13 हजार लाेग बिना लाइसेंसाें के वाहन चला रहे हैं। हालांकि सरकार की ओर से 30 जून तक लाेगाें काे लाइसेंस सहित अन्य दस्तावेजों काे कंप्लीट करने की राहत दी है। पिछले साल मार्च 2020 से काेराेना वायरस का संक्रमण लगातार बना हुआ है। इस वजह से सरकारी दफ्तरों में बीते एक साल से कहीं न कहीं काम प्रभावित है। इसके साथ ही ऑनलाइन ड्राइविंग टेस्ट ट्रैक पर शनिवार और रविवार को अवकाश होने के चलते काम नहीं हाेता है। ऐसे में पिछले साल लॉकडाउन के चलते करीब ढाई महीने दफ्तर बंद हाेने के बाद फिर से पेंडेंसी बढ़ती जा रही है।

वहीं दिसंबर और जनवरी के वाहनाें की आरसी नहीं आने से हर दिन सैकड़ों लाेग लाइसेंस और आरसी के लिए चक्कर लगा रहे हैं। इस बाबत ट्रैक इंचार्ज मनिंदर सिंह का कहना है कि काेराेना के चलते पहले सरकार ने दिसंबर, फिर मार्च और अब जून तक लाइसेंसाें की प्रक्रिया पूरी करने के लिए समय दिया गया है। जाे लाेग अभी तक लाइसेंस रिन्यू नहीं करा पाए हैं, वे जून तक करा लेंगे।

33 सेवा केंद्राें पर भी बनते हैं लाइसेंस

ट्रैक पर हर रोज 130 से 150 लोग लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए आते हैं। इसके अलावा 200 से 250 लोग अपने लाइसेंस रिन्यूअल कराने के साथ ही पक्के करवाने के लिए आते हैं। इसके अलावा जिले के 33 सेवा केंद्राें पर प्रत्येक में 12 से 15 लर्निंग लाइसेंस बनाने का काम हाेता है। यहां से लाइसेंस बनने के बाद पक्के लाइसेंस के लिए लाेगाें काे ट्रैक पर ही जाना पड़ता है। इस वजह से पक्के लाइसेंसाें की संख्या बढ़ जाती है।
एआरटीओ के दो पद खाली

सड़कों पर वर्तमान में 9.50 लाख से अधिक वाहन दौड़ रहे हैं। हर साल करीब 1.25 लाख नए वाहनों का रजिस्ट्रेशन हो रहा है। ऐसे में सहज अंदाजा लगाया जा सकता है कि विभाग के अफसरों के लिए यह विभाग कितना अहम है। इसके बावजूद कामकाज काे सही प्रकार से निपटाने के लिए यहां पर 2 एआरटीओ की तैनाती नहीं हाे पा रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आज की स्थिति कुछ अनुकूल रहेगी। संतान से संबंधित कोई शुभ सूचना मिलने से मन प्रसन्न रहेगा। धार्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करने से मानसिक शांति भी बनी रहेगी। नेगेटिव- धन संबंधी किसी भी प्रक...

    और पढ़ें