पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • When There Was A Quarrel With The Son, In Jalandhar, The Parents Took A 12 year old Student Of Class IX Hostage, Tied Their Hands With A Rope For One And A Half Hours, Kicked Them With Slippers And Sticks.

बच्चों के झगड़े में टूटा मां-बाप का कहर:बेटे से झगड़ा तो जालंधर में मां-बाप ने नौंवी क्लास के 12 साल के छात्र को बनाया बंधक, डेढ़ घंटे रस्सी से हाथ बांध लात, चप्पल व डंडों से पीटा

जालंधर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मारपीट की वजह से बच्चे के शरीर पर पड़े थप्पड़ व डंडे के निशान। - Dainik Bhaskar
मारपीट की वजह से बच्चे के शरीर पर पड़े थप्पड़ व डंडे के निशान।

जालंधर में बच्चों के झगड़े में 12 साल के नौंवी में पढ़ने वाले बच्चे को दूसरे के मां-बाप ने घर में बंधक बना लिया। इसके बाद डेढ़ घंटे तक उसे लात, चप्पल व डंडों से पीटते रहे। उसके ऊंची आवाज में रोने की आवाज सुनकर बच्चे के रिश्तेदार पहुंचे और उसे आरोपियों के चंगुल से छुड़ाया। उस वक्त मारपीट की वजह से बच्चा बेहोशी की हालत में पड़ा हुआ था। पुलिस ने अब आरोपियों के खिलाफ IPC की धारा 323, 341, 342, 506, 34 के तहत केस दर्ज कर लिया है।

खेलते वक्त हुए झगड़े में पहले छात्र को थप्पड़ मारे

गांव बीड़ बंसियां के रहने वाले सरकारी स्कूल में 9वीं क्लास के 12वर्षीय छात्र सतविंदर सिंह ने बताया कि वह गांव के गुरुद्वारा साहिब कल्याण जी में गया था। वहां उसे गांव का ही हमउम्र करनवीर मिल गया। वह दोनों वहां आपस में खेलने लगे। इसी दौरान उनके बीच किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया और करनवीर ने उसे थप्पड़ मार दिए।

दूसरे बच्चे ने मां व भाई को बुलाया, वो स्कूटी पर जबरन उठा ले गए

इसके बाद करनवीर ने अपनी माता कुलविंदर कौर किंदर को भी बुला लिया। करीब 15 मिनट बाद कुलविंदर अपने बेटे जसवीर जैसी के साथ पहुंच गई। उन्होंने गालियां दीं और जबरन उसे स्कूटी पर बिठाकर ले गए। वह उसे खेत में बने मकान में ले जाने लगे तो वो किसी तरह वहां से भाग निकला।

एक बार भागा तो पीछा कर पकड़ा, फिर बंधक बनाकर पीटते रहे

इसके बाद कुलविंदर कौर ने पति कुलदीप दीपा और बेटे जसवीर के साथ उसका पीछा कर पकड़ लिया। इसके बाद वो उसे अपने घर ले गए। वहां उन्होंने रस्सी से उसके हाथ बांध दिए और पीटना शुरू कर दिया। उसे डंडे व लातों से पीटा गया। उसे चप्पलें भी मारीं। मारपीट से वह ऊंची आवाज में रोने लगा। यह सुनकर उसकी दादी हरबंस कौर व बुआ सर्बजीत कौर और चाचा रघवीर सिंह ने वहां पहुंचकर उसे छुड़ाया। इसके बाद हमलावर वहां से भाग निकले। पुलिस ने आरोपी कुलविंदर कौर, उसके पति कुलदीप दीपा, बेटे जसवीर व नाबालिग बेटे के खिलाफ केस दर्ज किया है।

खबरें और भी हैं...