फॉगिंग कराई तेज:डेंगू के 23 नए केस मिले, संख्या 917 हुई 22 मरीज हुए ठीक

पठानकोट2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मनवाल बाग स्थित डाक्टर एमएल अत्री अस्पताल में डेंगू के मरीजों संबंधी जानकारी हासिल करते डा.राजकुमार और जिला एपिडिमोलोजिस्ट डाक्टर साक्षी। - Dainik Bhaskar
मनवाल बाग स्थित डाक्टर एमएल अत्री अस्पताल में डेंगू के मरीजों संबंधी जानकारी हासिल करते डा.राजकुमार और जिला एपिडिमोलोजिस्ट डाक्टर साक्षी।
  • सेहत विभाग ने 3 प्राइवेट अस्पतालों में की चेकिंग, डेंगू मरीजों का रैपिड टेस्ट पर ही कर रहे इलाज, डेंगू वार्ड और मच्छरदानियां तक नहीं

डेंगू पाॅजिटिव मरीजों का सही डेटा एकत्रित करने के मकसद से दूसरे दिन भी वीरवार को हेल्थ टीम ने शहर के 3 प्राइवेट अस्पतालों में जाकर चेकिंग की। हेल्थ टीम खानपुर और मनवाल बाग पर वरदान अस्पताल, डाक्टर अत्री अस्पताल और वीसी अस्पताल में पहुंची। हेल्थ टीम की चेकिंग में सामने आया कि प्राइवेट अस्पतालों में संदिग्ध डेंगू के मरीजों की जांच को एलाइजा टेस्ट करने की बजाए रैपिड एंटीजन टेस्ट किए जा रहे है। चेकिंग में इन प्राइवेट अस्पतालों में भर्ती रखे गए डेंगू के मरीजों के लिए अलग से कोई वार्ड नहीं बनाया गया और बेडों पर मरीजों के लिए न ही ही मच्छरदानियां उपलब्ध थी। फिलहाल हेल्थ टीम ने प्राइवेट अस्पतालों को डेंगू मरीजों की जांच को सैंपल लेकर सिविल अस्पताल में भेजने को कहा है, ताकि उनके एलाइजा टेस्ट कर जांच की जा सके।

जिला एपिडिमोलाॅजिस्ट डाॅक्टर साक्षी और डिस्ट्रिक फैमिली प्लाॅनिंग एंड वेलफेयर अफसर डाॅक्टर राजकुमार ने बताया कि मनवाल बाग स्थित डाॅक्टर एमएल अत्री अस्पताल में अब तक कुल डेंगू के 30 मरीज भर्ती हुए थे। जिनमें 22 मरीज ठीक होकर चले गए। डाॅक्टर अत्री अस्पताल में डेंगू के 8 मरीजों का इलाज चल रहा है।

वरदान अस्पताल में डेंगू पाॅजिटिव कुल 5 मरीज भर्ती हुए। जिनमें अब एक मरीज का इलाज चल रहा है। वीसी अस्पताल के डाक्टरों ने डेंगू पाजिटिव मरीजों का डाटा और रिकार्ड सिविल अस्पताल में सबमिट करवाने की बात कही है। डाॅ.राजकुमार और डाक्टर साक्षी का कहना है कि प्राइवेट अस्पतालों में मरीजों के किए जा रहे रैपिड टेस्ट और अधूरे इंतजामों को लेकर इसकी रिपोर्ट बनाकर सेहत अधिकारियों और डीसी को सौंपी जाएगी। उन्होंने प्राइवेट अस्पतालों से अपील की है कि संदिग्ध डेंगू के मरीजों की जांच हेतु सैंपल लेकर सिविल अस्पताल की लैब में भेजे जाए, ताकि एलाइजा टेस्ट किए जा सकें। वहीं प्राइवेट अस्पताल वालों को डेंगू मरीजों का रोजाना का डेटा सेहत विभाग को देने को कहा है, ताकि पता चल सके कि जिले में डेंगू के मरीजों की संख्या कितनी है।

71 सैंपलों की आई रिपोर्ट में 23 पाॅजिटिव मिले
वीरवार को 71 सैंपलों की आई रिपोर्ट में नए 23 डेंगू के मरीज मिले हैं। इनमें 18 सिटी और 5 लोग रूरल एरिया के रहने वाले हैं। जिले में अब डेंगू पाॅजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 917 पहुंच गई है। बता दें कि जिले में अब तक 1780 लोगों के डेंगू की जांच को एलाइजा टेस्ट किए गए है। जिनमें डेंगू पाजिटिव आए 736 लोग सिटी और 174 लोग रूरल के रहने वाले है। 12 लोग दूसरे जिलों के हैं।

लारवा किया नष्ट
हेल्थ इंस्पेक्टर अविनाश शर्मा, अनोख सिंह और अमृत सिंह के नेतृत्व में हेल्थ टीमों ने डेंगू प्रभावित एरिया में पहुंच सर्वे किया। वहीं टीम को कई जगह डेंगू का लारवा मिला। जिसे हेल्थ टीम ने मौके पर नष्ट करवा स्प्रे करवाई।

खबरें और भी हैं...