पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

देरी पर तकरार:भाजपाई बोले-जिम्मेदारी से भाग रही कांग्रेस, जलभराव के लिए कौन है जवाबदेह

पठानकोट7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • निगम की सत्ता में कांग्रेस के लौटने के तीन माह बाद भी नहीं हो सकी पहली मीटिंग

नगर निगम की सत्ता में कांग्रेस के लौटने के तीन माह बाद भी हाउस की पहली मीटिंग नहीं हो सकी है। मीटिंग में देरी को मुद्दा बनाने में जुटी भाजपा भी कांग्रेस पर अपनी जिम्मेदारी से पीछे भागने के आरोप लगा रही है। साथ ही बारिश के बाद सीवरेज-वाटर सप्लाई के लिए खोदी गलियों नालियों का बुरा हाल होने और कई जगह जलभराव को लेकर जिम्मेदारों से जवाब पूछ रही है।

कमिश्नर व डीसी संयम अग्रवाल छुट्टी से लौट आए हैं और निगम की सभी ब्रांचों के एजेंडे पर चर्चा के लिए अधिकारियों के साथ मीटिंग भी की है और कुछ एजेंडों पर ऑब्जेक्शन लगाकर उसे दोबारा से डिटेल में तैयार करने के लिए ब्रांच प्रमुखों को आदेश दिए हैं। 29 अप्रैल को कांग्रेस के पन्ना लाल भाटिया के मेयर बनने के बाद 10 मई और 11 जून को वित्त एवं ठेका कमेटी (एफएंडसीसी) की मीटिंग हुई है, जबकि हाउस की एक भी मीटिंग नहीं हो सकी है।

एफएंडसीसी को अवैध करार देकर भाजपा भी सवाल खड़ी कर चुकी है। भाजपा सवाल करती आ रही है कि एफएंडसीसी के मेंबर हाउस में चुने जाते हैं और हाउस की अभी तक मीटिंग ही नहीं हुई है तो एफएंडसीसी का गठन कैसे हो गया। एजेंडा बनने में देरी और फिर कमिश्नर के छुट्टी पर जाने की वजह से मीटिंग अलग से लटकती आ रही है। मेयर भाटिया ने 18 जुलाई को कमिश्नर के छुट्टी से लौटने के बाद मीटिंग बुलाने का दावा किया था। कमिश्नर छुट्टी से लौट आए हैं, जिसके बाद हाउस का एजेंडा तैयार करने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

सिंबल चौक में टूटी गलियों से दुकानदार नाराज
वार्ड नंबर 12 की सिंबल चौक के साथ लगती गलियां पिछले लंबे समय से उपेक्षा का शिकार हो रहे हैं। दुकानदार दिनेश महाजन, सतीश कुमार सहित अन्य दुकानदारों में बताया कि पिछले 15 से 20 सालों से अपना कारोबार कर रहे हैं। बरसात के दिनों में इस गली की हालत बहुत ही बुरी हो गई है, जिससे ग्राहकों ने गली में आना छोड़ दिया है।

उन्होंने कहा कि निगम की ओर से टैक्स हर साल लिया जा रहा है, लेकिन गलियां बनाने की तरफ कभी ध्यान नहीं दिया गया है। दुकानदारों ने कहा कि एक तो कोरोना के पहले ही लोगो के कारोबार मंदी में चल रहे है, दूसरा प्रशासन की अनदेखी के चलते उनका घरों का खर्चा चलाना भी मुश्किल हो रहा है। उन्होंने प्रशासन से मांग की है कि जल्द से जल्द इस गली का निर्माण करके उन्हें इस समस्या से निजात दिलाई जाए।

भाजपा टैन्योर में एजेंडे फाड़ देते थे कांग्रेसी, अब कहां गए : रामपाल​​​​​​​
भाजपा के पूर्व जिला प्रधान अनिल रामपाल ने कहा कि कांग्रेस अपनी जिम्मेदारी से पीछे हट रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा के टेन्योर में कांग्रेसी पार्षद रेगुलर मीटिंग कराने की मांग करते रहे हैं, यहां तक एजेंडे की कापियां तक फाड़ते नजर आते थे और अब अपनी बार रेगुलर मीटिंग बुलाने की रिस्पांसिबिलिटी भूल गए हैं।

खबरें और भी हैं...