पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गाइडेंस एंड काउंसलिंग प्रोग्राम:9वीं से 12वीं क्लास तक के बच्चों को शिक्षा के साथ रोजगार प्रशिक्षण भी मिलेगा, शिक्षकों को ट्रेंड करेगा शिक्षा विभाग

पठानकोटएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अध्यापकों को आज और कल जिला स्तर पर मिलेगी ट्रेनिंग

राज्य शिक्षा खोज व प्रशिक्षण परिषद के अधीन सरकारी स्कूलों के 9 वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों को करियर एजुकेशन के सही चयन के लिए गाइडेंस और काउंसलिंग देने को अध्यापकों को 27 और 28 अक्टूबर को जिला स्तर पर दो ग्रुपों में प्रशिक्षण मिलेगा।

इससे अध्यापक विद्यार्थियों को करियर एजुकेशन देने में समर्थ बनेंगे। इस संबंधी डायरेक्टर एससीईआरटी ने सीनियर सेकेंडरी स्कूलों के अध्यापकों को करियर पाठ्यक्रम के संबंध में ऑनलाइन रिफ्रेशर पाठ्यक्रम का शेड्यूल भेजने, नोडल अफसर और करियर काउंसलर लगाने संबंधी समूह जिला अफसरों को एक पत्र जारी किया है। डीईओ सेकेंडरी जगजीत सिंह ने बताया कि विद्यार्थियों को नए करियर पाठ्यक्रमों संबंधी जानकारी देने व उनकी मनोवैज्ञानिक स्थिति को ध्यान में रखकर समस्याएं सुलझाने को सामर्थ्य अध्यापकों व कंप्यूटर फेकल्टी को करियर काउंसलर लगाया जाना है। इसकी समूची गतिविधियों की देखरेख और रिपोर्ट मुख्य दफ्तर को भेजने के लिए डिप्टी डीईओ राजेश्वर सलारिया को नोडल अफसर लगाया है। इसके अलावा सीनियर सेकेंडरी स्कूलों के टीचर 2019-2020 के दौरान इस प्रोग्राम संबंधी प्रशिक्षण ले चुके हैं, उन्हें ऑनलाइन रिफ्रेशर पाठ्यक्रम कराया जा रहा है।

विभाग की जारी रूपरेखा अनुसार इन अध्यापकों का ऑनलाइन प्रशिक्षण 27 व 28 अक्टूबर को अलग-अलग जिलों के अनुसार दो ग्रुपों में होगा। पहले दिन अमृतसर, बठिंडा, बरनाला, फ्तेहगढ़ साहब, फरीदकोट, फिरोजपुर, फाजिल्का, गुरदासपुर, जालंधर और होशियारपुर जिलों के 415 अध्यापकों का प्रशिक्षण होगा। दूसरे दिन कपूरथला, मोगा, लुधियाना, मोहाली, नवांशहर, पटियाला, पठानकोट, रूपनगर व संगरूर जिलों के 410 अध्यापकों का प्रशिक्षण होगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें