यात्रीगण ध्यान दें:फिरोजपुर मंडल ने शुरू की दो जोड़ी ट्रेन, 14 को श्रीमाता वैष्णो देवी कटरा से चलेगी हेमकुंट एक्स.

पठानकोट4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना की दूसरी लहर के बाद कई ट्रेनों को बंद कर दिया गया था, लेकिन अब चालू किया जा रहा है

दिल्ली सहित अन्य राज्यों में कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी आने और समस्या अनलॉक की प्रक्रिया शुरू होने के बाद निरस्त की गई वापस पटरी पर आने लगी है। उत्तर रेलवे ने चेन्नई राजधानी, अमृतसर शताब्दी, पुणे दुरंतो सहित 33 जोड़ी ट्रेनों को फिर से चलाने का फैसला किया है। जबिक कोटा-ऊधमपुर ट्रेन का परिचालन बुधवार को शुरू हो गया है।

अन्य ट्रेनें भी 18 जून तक चलने लगेंगी। जबकि फिरोजपुर मंडल के अधीन आती दो जोड़ी ट्रेनें नई दिल्ली-श्री माता वैष्णों देवी कटरा उत्तर संपर्क क्रांति व ऋषिकेश-श्रीमाता वैष्णो देवी कटरा हेमकुंट एक्सप्रेस को भी चलाया जाएगा। इससे यात्रियों को काफी राहत मिलेगी। सभी ट्रेनें विशेष ट्रेन के तौर पर चलेंगी और इनकी बुकिंग शुरू हो गई है।

फिरोजपुर मंडल की ओर से ट्रेन नंबर- 01410 को अपने निर्धारित समय पर 14 जून को श्रीमाता वैष्णो देवी कटरा से चलाया जाएगा। जबकि ट्रेंन नंबर- 01409 ऋषिकेश रेलवे स्टेशन से श्री माता देवी वैष्णो कटरा हेमकुंट एक्सप्रेस 15 जून को चलेगी। इसी प्रकार ट्रेन नंबर-02445 को नई दिल्ली से श्रीमाता वैष्णो देवी कटरा उत्तर संपर्क क्रांति एक्सप्रेस को 14 जून को तथा ट्रेन नंबर-02446 को श्री माता वैष्णो देवी से नई दिल्ली के बीच 15 जून को अपने निर्धारित समय पर चलाया जाएगा।

10 अप्रैल तक 70% ट्रेनें चलने लगी थीं, लेकिन कोरोना के केस बढ़ने से बंद कर दिया गया था

10 अप्रैल तक उत्तर रेलवे की 70 फीसदी ट्रेने चलने लगी थीं, लेकिन कोरोना की दूसरी लहर और कई राज्यों में लॉकडाउन लगने से यात्रियों की संख्या में कमी आने लगी। इस वजह से कई ट्रेनों को निरस्त करने का फैसला किया गया। वहीं, कई ट्रेनों के फेरे कम करने पड़े।

अब स्थिति सुधरने के साथ ही निरस्त ट्रेनों को चलाने का फैसला किया जा रहा है। रेलवे अधिकारियों का कहना है कि यात्रियों की संख्या बढ़ने के साथ ही आने वाले दिनों कई अन्य ट्रेनें चलाने की घोषणा की जाएगी। रेलवे की ओर से 14 व 15 जून को चलाई जाने वाली ट्रेनें की बुकिंग शुरू कर दी गई है। अब कोरोना के केस कम होने लगे हैं कुछ दिनों बाद रेलवे धीरे-धीरे सब ट्रेनों को चलाएगा। ताकि यात्रियों को परेशानी न हो पाए।

खबरें और भी हैं...