पठानकोट आर्मी कैंट पर आतंकी हमला:पाकिस्तान बॉर्डर से डेढ़ किमी दूर बमियाल में 2 संदिग्ध देखे गए; पुलिस, आर्मी और BSF का ड्रोन से सर्च ऑपरेशन

पठानकोट6 महीने पहले
सर्च ऑपरेशन के दौरान ड्रोन उड़ाती पुलिस, आर्मी और बीएसएफ की टीम।

पंजाब के पठानकोट जिले में आर्मी कैंट में ग्रेनेड से हमला किया गया है। ग्रेनेड कैंट के त्रिवेणी गेट पर फेंका गया। हालांकि हमले में कोई जानमाल का नुकसान नहीं हुआ। वहीं, पाकिस्तान बॉर्डर से डेढ़ किमी दूर बमियाल में रात को 2 संदिग्ध देखे गए थे। जिसकी सूचना मिलते ही पंजाब पुलिस आर्मी और BSF के साथ मिलकर सर्च ऑपरेशन चला रही है। ड्रोन के जरिए संदिग्धों की तलाश की जा रही है।

गांव के काबिल सिंह ने बताया कि टॉर्च की रोशनी आई थी। जिसके बाद हमने तुरंत पुलिस को सूचित किया। जिसके बाद पुलिस अब आर्मी के साथ सर्च ऑपरेशन चला रही है। उनका गांव बॉर्डर से करीब डेढ़ किमी दूर है।

ड्रोन के जरिए संदिग्धों की तलाश करती आर्मी
ड्रोन के जरिए संदिग्धों की तलाश करती आर्मी

दविंदर सिंह ने बताया कि मोटर की तरफ टार्च की रोशनी आई थी। जिसके बाद नरोट जैमल सिंह के एसएचओ को सूचना दी और पुलिस आ गई। डीएसपी सुखजिंदर सिंह ने बताया कि जैसे ही ग्रामीणों से सूचना मिली तो पुलिस आर्मी और बीएसएफ की टीम के साथ ड्रोन के जरिए सर्च ऑपरेशन किया जा रहा है।

पुलिस को मिली लावारिस कार, आगे-पीछे अलग नंबर

पुलिस को एक लावारिस i20 कार भी बरामद हुई है। जिसके आगे-पीछे की नंबर प्लेट को शातिर तरीके से बदला गया है। कार के आगे PB 10 GJ 6781 और पीछे PB 10 GL 6781 लगाया गया है। इसमें सिर्फ बीच में G के बाद J और L का ही अंतर रखा गया है। पुलिस इसे भी धमाके में भूमिका के एंगल से जोड़कर खंगाल रही है।

पठानकोट पुलिस द्वारा बरामद की गई लावारिस कार
पठानकोट पुलिस द्वारा बरामद की गई लावारिस कार

पूरे पंजाब में अलर्ट, बारात के दौरान गुजरे युवक पर धमाके का शक

वहीं ग्रेनेड अटैक के बाद पूरे पंजाब में अलर्ट जारी कर दिया है। अमृतसर, जालंधर, बठिंडा, गुरदासपुर और अन्य सभी शहरों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। नाकों पर पुलिस अधिकारियों को तैनात किया गया है। न्यूज एजेंसी के मुताबिक आर्मी कैंप के गेट से एक बारात निकल रही थी, उसी समय मोटरसाइकिल पर सवार होकर एक युवक गुजरा। इसी बाइक सवार पर ग्रेनेड फेंकने का शक है।

पठानकोट के SSP सुरेंद्र लांबा ने बताया कि मामले की जांच जारी है, CCTV फुटेज खंगाले जा रहे हैं। पठानकोट के सभी चेकपोस्ट पर अलर्ट जारी कर दिया गया है। ब्लास्ट के बाद ग्रेनेड का हिस्सा बरामद कर लिया गया है।

पठानकोट ग्रेनेड अटैक से अलर्ट हुई सरकार:पंजाब के गृह मंत्री ने बॉर्डर रेंज अफसरों की एमरजेंसी मीटिंग बुलाई; चुनाव से पहले वारदात से चिंता

बाइक सवारों ने फेंका ग्रेनेड
एसएसपी सुरिंदर लांबा ने संतरी से मिली जानकारी के आधार पर बताया कि रात को कैंट के सामने से एक बाइक गुजरी थी। उस पर सवार लोगों ने गेट की तरफ ग्रेनेड फेंका, जिसमें ब्लास्ट हो गया। उसने अधिकारियों को सूचना दी। इलाके को तुरंत सील करके चप्पा-चप्पा खंगाला गया। गेट पर लगे CCTV भी खंगाले जा रहे हैं।
आर्मी कैंप हमले के बाद हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। चेकपोस्ट पर सख्ती बढ़ा दी गई है।
आर्मी कैंप हमले के बाद हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। चेकपोस्ट पर सख्ती बढ़ा दी गई है।

भारतीय सेना का सबसे महत्वपूर्ण ठिकाना
बता दें कि पंजाब का पठानकोट जिला भारतीय सेना के सर्वाधिक महत्वपूर्ण ठिकानों में से एक है। यहां पर भारतीय वायुसेना का स्टेशन, सेना का गोला- बारूद डिपो और दो बख्तरबंद ब्रिगेड व बख्तरबंद इकाइयां हैं।

पठानकोट में ब्लास्ट के बाद घटनास्थल पर पड़े ग्रेनेड के टुकड़े, इनकी जांच की जा रही है।
पठानकोट में ब्लास्ट के बाद घटनास्थल पर पड़े ग्रेनेड के टुकड़े, इनकी जांच की जा रही है।

5 साल पहले पठानकोट एयरबेस पर हुआ था आतंकी हमला
पठानकोट में वायु सेना के एयरबेस पर 2 जनवरी 2016 को आतंकी हमला हुआ था। भारतीय सेना की वर्दी में आए हथियारबंद आतंकियों ने इसे अंजाम दिया था। इसमें 7 जवान शहीद हुए थे। सभी आतंकी भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर रावी नदी के रास्ते आए थे। भारतीय इलाके में पहुंचकर आतंकियों ने कुछ गाड़ियों को हाईजैक किया था और पठानकोट एयरबेस पहुंचे थे।

फिरोजपुर में मिल चुका है हैंड ग्रेनेड
दो दिन पहले ही फिरोजपुर जिले की तहसील जीरा के गांव सेखा से टिफिन बम मिला था। बम को टिफिन में बंद कर जमीन में दबाया गया था। पौधारोपण के दौरान यह बम मिला था। इससे पहले भी पंजाब में आधा दर्जन से ज्यादा टिफिन बम और हैंड ग्रेनेड मिल चुके हैं। यही नहीं पुलिस ने ऐसे तीन मॉड्यूल का भंडाफोड़ भी किया है, जिसमें लोग पैसे के लिए आतंकी वारदात करने को तैयार हुए हैं।

जलालाबाद में हो चुका है ब्लास्ट
फाजिल्का जिले के जलालाबाद में भी एक ब्लास्ट हो चुका है। 15 सितंबर 2021 को दो युवक मोटरसाइकिल पर बम प्लांट करके इसे जलालाबाद की सब्जी मंडी में खड़ा करने जा रहे थे, मगर यह बम रास्ते में ही बीच बाजार फट गया था और बलविंदर सिंह नामक युवक के चिथड़े उड़ गए थे। पुलिस ने इस मामले में प्रवीण सिंह, मनजीत सिंह और रणजीत सिंह के अलावा कुछ अन्य लोगों को गिरफ्तार किया हुआ है, जिनसे हथियार भी बरामद हुए। जगराओं की सीआईए पुलिस इनसे पूछताछ कर रही है।

खबरें और भी हैं...