सेना का सराहनीय कदम:मिलिट्री अस्पताल ने सिविल को मरीजों के लिए 50 बेड, 50 गद्दे, पिल्लो व चादरें दीं

पठानकोट6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गद्दे, पिल्लो और चादरें देने के दौरान एसएमओ डॉ.राकेश सरपाल से बात करते सेना के अधिकारी। - Dainik Bhaskar
गद्दे, पिल्लो और चादरें देने के दौरान एसएमओ डॉ.राकेश सरपाल से बात करते सेना के अधिकारी।
  • कोरोना मरीजों की मदद को सेना का सराहनीय कदम

जिले में बढ़ रहे कोरोना केसों को लेकर सेना भी मदद को आगे आई है। बुधवार को मिलिट्री अस्पताल ने सिविल में पॉजिटिव मरीजों को भर्ती करने के लिए 50 बेड, 50 गद्दे, पिल्लो और चादरें दीं। सेना ने सिविल को 10 कंसेंट्रेटर भी दिए। सेना ने जिला प्रशासन व सेहत विभाग को आश्वासन दिया कि महामारी से लड़ने को सेना हर मदद को तैयार है। बता दें कि बुधवार को सिविल के आइसोलेशन वार्ड में पॉजिटिव लेेवल-2 के 44 मरीज भर्ती चल रहे थे। इनमें 37 मरीज ऑक्सीजन पर चल रहे हैं।

उधर, जिले के सिविल अस्पताल में एमसीएच बिल्डिंग में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में कोरोना पॉजिटिव मरीजों को मिलने वाली आक्सीजन सेंटर सप्लाई के 33 बैड फुल हो गए है। जिसके चलते सेहत विभाग ने आइसोलेशन वार्ड में कुल 60 बेड लगाए हैं। इसके अलावा चिल्ड्रन वार्ड को कोरोना वार्ड बना दिया है और सेना द्वारा भेजे गए बेडों को वहां पर लगाया गया है। सेहत विभाग का कहना है कि एमसीएच बिल्डिंग में हो रही कोरोना सैंपलिंग को वीरवार से ओपीडी में शिफ्ट कर दिया जाएगा। वहां पर कोरोना पॉजिटिव मरीजों के लिए बेड लगाए जाएंगे।

उधर, एसएमओ डॉ.राकेश सरपाल ने बताया कि चिल्ड्रन वार्ड को कोरोना वार्ड बनाया गया है। वहीं, कोरोना सैंपलिंग के एरिया और वैक्सीनेशन एरिया में ऑक्सीजन सेंटर सप्लाई का काम शुरू करवाया जा रहा है। यह 15 दिन में पूरा हो जाएगा। उसके बाद इन एरिया में भी बेड लगाकर आइसोलेशन वार्ड को 80 बेड का बनाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...