पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

प्रदर्शन:सभा करने पर प्रदेश भाजपा प्रधान पर केस के विरोध में 55 से अधिक भाजपाइयों का धरना, बोले-पर्चे से डरने वाले नहीं

पठानकोट12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पठानकोट के वाल्मीकि चौक पर धरना देते भाजपाई। भास्कर
  • कहा-सोशल डिस्टेंसिंग तोड़ने वाले कांग्रेसी विधायकों-मंत्रियों पर पर्चे क्यों नहीं करती पुलिस

शहर के घरथोली मोहल्ला में रविवार शाम 35 से 40 लोगों के सभा करने पर पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए पंजाब भाजपा प्रधान अश्वनी शर्मा समेत 5 नामजद भाजपा पदाधिकारियों और 35 अन्य पर एपिडेमिक एक्ट समेत कई धाराओं में एफआईआर दर्ज की थी। इसके विरोध में मंगलवार को 55 से अधिक भाजपाइयों ने वाल्मीकि चौक में धरना लगाया और कहा कि भाजपा पर्चों से डरने वाली नहीं है।

उन्होंने कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग तोड़ने वाले कांग्रेस विधायकों और मंत्रियों पर पर्चे क्यों नहीं किए जाते। अब इतने भाजपाइयों की ओर से धरना-प्रदर्शन कर पुलिस और सरकार के खिलाफ नारेबाजी पर पुलिस ने चुप्पी साध ली है। धरने में पूर्व कैबिनेट मंत्री मास्टर मोहन लाल, विधायक दिनेश सिंह बब्बू, पूर्व विधायिका सीमा देवी, जिला महामंत्री विनोद धीमान, सुरेश शर्मा, पूर्व जिला अध्यक्ष अनिल रामपाल, विपन महाजन, सतीश महाजन, योगेश ठाकुर, जोगिंदर शील, रवि मोहन, रामपाल विक्की, बलविंदर बिल्ला, प्रवीण शर्मा पप्पी, विजय काटल, विजय चुन्नी, राजू महाजन, प्रदीप रैना, अरुण महाजन, अशोक मेहता, विशाल महाजन, राकेश शर्मा, नरेश वडैहरा, सुदेश वर्मा, बख्शीश सिंह, रजिंदर सिंह, शमशेर ठाकुर, रोहित पुरी, नरेंद्र पम्मी, बिंदा सैनी, राजेंद्र लाडी, शोभा रानी, किरण अरोड़ा शामिल हुए।

उधर, अब इतनी संख्या में धरना-प्रदर्शन पर सिटी डीएसपी राजेंद्र सिंह मनहास का कहना था कि पुलिस अभी देख रही है कि क्या कार्रवाई बनती है।

मंत्री अरुणा के दौरे में पुलिस को भीड़ नजर नहीं आई थी : विजय शर्मा
भाजपा जिला अध्यक्ष विजय शर्मा ने कहा कि प्रदेश अध्यक्ष अश्विनी शर्मा करोना काल में मोहल्ला घरथोली में चंद परिवारों का हाल-चाल जानने के लिए गए थे लेकिन पुलिस प्रशासन ने पंजाब सरकार की इजाजत से उन पर व जिला महामंत्री सुरेश शर्मा, रामपाल विक्की, संजय शर्मा, सुनील कुमार व 35 अन्य लोगों पर एपिडेमिक एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज कर की, जबकि कांग्रेस के विधायक अमित विज, विधायक जोगिंदर पाल जो रोजाना उद्घाटन कर रहे हैं और भीड़ जुटा रहे हैं। मंत्री अरुणा चौधरी के पठानकोट दौरे में कितनी ही बड़ी संख्या में लोग शामिल थे लेकिन पुलिस प्रशासन को तब सोशल डिस्टेंसिंग नजर नहीं आई। पुलिस का यह दोहरा रवैया है जबकि कानून सभी के लिए एक होता है। प्रदर्शन में भाजपाई हैंड बोर्ड लिए हुए थे जिसमें कांग्रेसी विधायकों व मंत्री द्वारा किए गए कार्यक्रमों की फोटो दिखाकर सबूत दिए गए और मांग की गई कि उन पर भी बनती कार्यवाही की जाए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें