पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जुबान से ही दी ईद उल अजहा की मुबारकबाद:हीरा मस्जिद में ईद उल अजहा पर 8 बार की नमाज अदा, कोरोना की हिदायतें मानते हुए न गले मिले न हाथ मिलाया

पठानकोट13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

डलहाैजी रोड स्थित हीरा मस्जिद में मुस्लिम समुदाय की ओर से ईद उल अजहा को समर्पित कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान मौलवी मोहम्मद फुरकान के नेतृत्व में 8 बार एकत्रित मुस्लिम समुदाय ने नमाज अदा की। इस बार खास बात यह रही कि इस त्यौहार पर पहले जैसे लोग एक दूसरे को गले मिलकर, हाथ मिलाकर ईद उल अजहा की मुबारकबाद देते थे वैसा आज कुछ नहीं हुआ कारण कोरोना की दहशत.....के चलते बिना किसी के गले मिले, न मिलाया किसी से हाथ सभी ने अपनी जुबान से दी एक दूसरे को मुबारकबाद।

मौलवी मोहम्मद फुरकान ने सुबह साढ़े 6 से लेकर सुबह 10 बजे तक 8 बार नमाज अता कराई। कोरोना के कारण जिन लोगों की मौत हो गई उनकी आत्मा की शांति के लिए दुआ की गई और उनके परिवारों की अधिक मदद की अपील की। इस दौरान पूर्व मंत्री मास्टर मोहन लाल व हाजी राजी महंत ने सभी मुस्लिम समुदाय को ईद उल अजहा की मुबारकबाद दी और भारत की एकजुटता और अखंडता को कायम रखने की अपील की। इस मौके पर पूर्व पार्षद रामपाल विक्की, प्रधान रोशनदीन मामून, कवि ठेकेदार, हाजी अनवर, श्याम दीन, राणा व मोहम्मद आतिफ भी थे।

शाहपुरकंडी में मनाई ईद उल अजहा
ईद उल अजहा बकरीद पूरे क्षेत्र के मुस्लिम भाईचारे की ओर से श्रद्धा व उत्साह से स्थानीय शाही मस्जिद शाहपुर कंडी में अध्यक्ष लियाकत अली की अध्यक्षता में मनाई गई। इसमें मस्जिद के ईमाम फरमान हाफिज ने ईद की महत्वता पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि ईद हमें आपसी भाईचारा बढ़ाने का संदेश देती है और हम सभी को सभी लोगों से एकजुट हो कर देश की एकता व अखंडता के लिए कार्य करना होगा।

शाही मस्जिद में मुस्लिम भाईचारे के लोगों ने नमाज अदा की और बाद में आपस में एक-दूसरे के गले लगाकर हार्दिक शुभकामनाएं दी। मस्जिद में आए नमाजियों को ईमाम की ओर से फल व सेवियां भी दी गई। इस मौके पर महासचिव आयूब खान, आमीर खान, मक्खन दीन, मोहम्द मुस्ताक, आफताब मोहम्मद, कर्मदीन, सलीम मोहम्मद व तेग अली मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...