पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

धरना:डेयरीवाल में निगम की जमीन की निशानदेही करने गई टीम का फिर विरोध, लोग बोले-60 साल से खेती कर रहे, मालिकाना हक दिया जाए

पठानकोटएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कहा-बंजर जमीन ऊपजाऊ बनाई अब उसे सरकारी बता बेघर किया जा रहा

डेयरीवाल में 325 एकड़ जमीन पर कब्जा लेने निशानदेही करने गई निगम टीम का मंगलवार को भी लोगों ने विरोध किया और धरना शुरू कर दिया है। प्रदर्शनकारियों ने 60 साल पुराने कलेक्टर रेट के हिसाब से जमीन का रेट फिक्स पर मालिकाना हक दिलाने की मांग की। ग्रामीणों ने भूख हड़ताल की चेतावनी दी है। डेयरीवाल पंचायत के शामिल होने से 325 एकड़ पंचायती जमीन को निगम ने अपने नाम पर ट्रांसफर करवा ली है और सरकारी जमीन की निशानदेही का बुर्जियां लगाने काम शुरू किया है। इसका डेयरीवाल तथा दर्शोपुर के लोग विरोध कर रहे हैं। गोरख नात, मोहन लाल, जगदीश राज, अजीत राज, हरबंस लाल, सुरजीत सिंह, मनजीत कौर, प्रकाशो देवी, राज रानी, स्वर्णो देवी ने कहा कि 60-70 सालों से पूर्वज जमीन पर खेती करते आ रहे हैं, तब यह जमीन बंजर थी और पूर्वजों ने खून पसीना बहाकर उपजाऊ बनाया है और अब उसे सरकारी बताकर उन्हें बेघर किया जा रहा है।

उन्होंने मांग करते हुए कहा कि जमीन के 60 साल पुराने कलेक्टर रेट लगाकर उन्हें मालिकाना हक दिया जाए। अन्यथा ऐसे ही उनका धरना प्रदर्शन जारी रहेगा और भूख हड़ताल शुरू करने से भी पीछे नहीं हटेंगे। उन्होंने कहा कि कानून के अनुसार जमीन पर फसल उगाने वाले मुजाहरों को भी उनका बनता हक मिलता है, जमीन से बाहर किया जा रहा है।

दूसरी तरफ, निगम अधिकारियों ने प्रदर्शनकारियों को डीसी व निगम कमिश्नर के आगे मामला रखने और रास्ता खोलने की हिदायत दी, पर वे नहीं माने। निगम के नोडल अफसर डॉ. एनके सिंह ने बताया कि निशानदेही का काम चल रहा है। कुछ महिलाएं फिर विरोध करने के लिए आई थीं। उन्हें डीसी के सामने अपने मसला रखने के लिए कह दिया गया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज किसी समाज सेवी संस्था अथवा किसी प्रिय मित्र की सहायता में समय व्यतीत होगा। धार्मिक तथा आध्यात्मिक कामों में भी आपकी रुचि रहेगी। युवा वर्ग अपनी मेहनत के अनुरूप शुभ परिणाम हासिल करेंगे। तथा ...

और पढ़ें