भाजपा पार्षदों ने किया बायकॉट:पन्ना भाटिया के सिर सजा दूसरे मेयर का ताज, विक्रम सीनियर और अजय डिप्टी मेयर बने, 50 में 27 महिला पार्षद पर किसी को नहीं मिली जगह

पठानकोट6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • तीनों पद पठानकोट को, एमएलए जोगिंदरपाल भोआ को नहीं दिला सके उसका हिस्सा

आखिरकार पन्ना लाल भाटिया के सिर पठानकोट के दूसरे मेयर का ताज सज गया, जैसा कि भास्कर ने पहले ही ब्रेक कर दिया था। पूर्व में 2 बार भाजपा के पार्षद रहे और पहली बार कांग्रेस के सिंबल पर चुनाव लड़े विक्रम महाजन सीनियर डिप्टी मेयर और अजय कुमार डिप्टी मेयर चुने गए। राकेश बबली वित्त कमेटी सीनियर मेंबर और सरना की मीनाक्षी फाइनांस व वित्त कमेटी मेंबर बनाए गईं। तीन अहम पदों पर नियुक्तियां एमएलए अमित विज अपने मुताबिक करवाने में कामयाब रहे, जबकि भोआ के विधायक जोगिंदरपाल की नहीं चली और डिप्टी मेयर की पोस्ट लेने में कामयाब नहीं हो सके, इसलिए नामों का एलान होते ही वे मीटिंग छोड़कर चले गए। इसके पहले भाजपा की कार्पोरेशन में डिप्टी मेयर का पद भोआ हलके को मिला था। 50 फीसदी महिला आरक्षण वाले निगम में 27 महिला पार्षद हैं इसके बावजूद 3 अहम पदों में एक भी महिला को नहीं दिया गया, जबकि पंजाब के अन्य सभी निगमों में एक पद महिला को दिया गया है।

मंत्री बोले- सभी पार्षदों की राय लेकर हाईकमान ने मेयर चुना

मेयर समेत सभी पदों के नाम बंद लिफाफे में लेकर कैबिनेट मंत्री भारत भूषण आशू ऑब्जर्वर के तौर पर पहुंचे थे। एवले स्कूल के आडीटोरियम में सुबह 10.15 बजे जालंधर डिवीजन की कमिश्नर गुरप्रीत कौर सपरा ने सभी 50 कार्पोरेशनों को शपथ दिलाई, उसके बाद 10.30 बजे मेयर के चुनाव की प्रक्रिया शुरू हुई। कांग्रेस के प्रायोजित कार्यक्रम के मुताबिक रोहित स्याल ने मेयर के लिए पन्ना भाटिया के नाम का प्रस्ताव रखा, जिसे विक्रम विलक्कू ने अनुमोदित किया। सीनियर डिप्टी मेयर विक्रम के नाम का प्रस्ताव चरणजीत हैप्पी ने रखा, जिसे रजनी ठाकुर ने अनुमोदित किया। गणेश विक्की ने डिप्टी मेयर के तौर पर अजय का नाम प्रस्तावित किया, जिसे बलविंदर ज्योति ने अनुमोदित किया।

मेयर की दौड़ में चल रहे नितिन महाजन लाडी और गौरव वडैहरा को कोई पद नहीं मिला। विधायक अमित विज और मेयर पन्ना भाटिया दोनों खत्री बिरादरी से हो गए हैं। जातिगत समीकरण के तहत प्रमुख आबादी वाले महाजन बिरादरी को जोड़ने के लिए विक्रम महाजन को सीनियर डिप्टी मेयर बनाया गया तो अनुसूचित वर्ग को खुश करने को अजय को डिप्टी मेयर। मेयर बनने के बाद पन्ना भाटिया को बधाइयों का तांता लग गया। मंत्री भारत भूषण आशू ने कहा कि सभी पार्षदों की राय लेकर हाईकमान ने सबसे सीनियर कार्पोरेटर को मेयर फाइनल किया। एमएलए विज ने मुख्यमंत्री, कांग्रेस प्रधान सुनील जाखड़, कैप्टन संदीप संधू और भारत भूषण आशू का आभार प्रकट किया।

चुनाव में महिलाओं और भोआ हलके की हुई अनदेखी

चुनावों में पहली बार 50 फीसदी सीटें महिलाओं के लिए आरक्षित की गईं थीं, लेकिन तीनों अहम पदों मेयर, सीनियर डिप्टी मेयर और डिप्टी मेयर में से कोई भी पद किसी महिला को नहीं दिया गया, जबकि 50 में से 27 महिला पार्षद चुनकर आई हैं। पिछली भाजपा की कार्पोरेशन में भी वीणा परमार सीनियर डिप्टी मेयर तब भी बनी थीं जब चुनाव में महिलाओं के लिए 50 फीसदी सीटें आरक्षित नहीं की गई थीं, पर अब कांग्रेस ने महिलाओं को उपेक्षित किया। यही नहीं भोआ हलके के एमएलए जोगिंदरपाल को भी कांग्रेस हाईकमान ने अहमियत नहीं दी।

इसलिए वे नामों की घोषणा होते ही उठकर चले गए। जोगिंदर ने शालू भट्टी का नाम सीनियर डिप्टी मेयर के लिए हाईकमान को दिया था, लेकिन पार्टी के भीतर जोगिंदर के प्रतिद्वंदी माने जा रहे पूर्व जिला प्रधान संजीव बैंस की करीबी मीनाक्षी को वित्त कमेटी में शामिल किया गया। संजीव कांग्रेस प्रधान सुनील जाखड़ गुट के करीब हैं।

12 भाजपा पार्षद चुनाव का बायकाॅट कर मीटिंग हाल से बाहर निकल आए

भाजपा के 12 कारपोरेटर शपथ लेने के बाद मेयर चुनाव का बायकाॅट करते हुए मीटिंग हाल से बाहर आ गए। पार्षद और मंडल प्रधान रोहित पुरी ने कहा कि वे इस चुनाव का बायकाॅट कर रहे हैं, क्योंकि कांग्रेस ने धक्के से सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग कर चुनाव लड़ा, इसलिए यह चुनाव असंवैधानिक है। उनके साथ राशि वासुदेवा, मीनू, कंचन बाला, अश्वनी, रजनी महाजन, अंजू शर्मा, रीतू बाला थे।

एमएलए विज के मार्गदर्शन पर काम करूंगा : मेयर भाटिया

मेयर घोषित होने के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए पन्ना भाटिया ने कहा कि वह कांग्रेस लीडरशिप के आभारी हैं और जिस कुर्सी पर उन्हें बैठाया गया है, उस पर खरा उतरने की हरसंभव कोशिश करेंगे। शहर की जो समस्याएं हल नहीं हो सकी हैं, उन्हें एमएलए अमित विज के मार्गदर्शन में काम कर जल्द हल कराएंगे।​​​​​​​

खबरें और भी हैं...