पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लॉकडाउन का असर निगम की आय पर:प्रॉपर्टी टैक्स का टाॅरगेट ‌~5 करोड़, जमा हुआ सिर्फ ‌~3.10 करोड़, अप्रैल से रिवाइज्ड होंगे रेट

पठानकोट13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नए वित्तीय वर्ष से टैक्स की दरों में पांच प्रतिशत बढ़ोतरी का आदेश, रिव्यू करेगा निगम

लॉकडाउन के चलते नगर निगम की आय पर भी असर पड़ा है। प्रापर्टी टैक्स के तय सालाना 5 करोड़ के लक्ष्य में से 3 करोड़ 10 लाख 74 हजार वसूल कर सका है। अब पंजाब सरकार ने अप्रैल से शुरू नए वित्तीय वर्ष में से नगर निकायों में प्रापर्टी टैक्स की दरें 5 फीसदी बढ़ाने के आदेश दिए हैं। सरकार के आदेश के बाद पठानकोट सिटी में भी प्रापर्टी टैक्स की दरों में बढ़ोतरी होगी।

इसके लिए निगम की ओर से रेट रिवाइज्ड करने के लिए एडिशनल कमिश्नर सुरिंद्र सिंह की निगरानी में रिव्यू किया जा रहा है। बता दें कि निगम की आय बढ़ाने के लिए पंजाब फाइनांस कमीशन ने प्रॉपर्टी टैक्स के रेट सहित दूसरे यूजर चार्जेज बढ़ाने की सरकार से सिफारिश की थी। इसके अलावा कुछ निगम ने आय बढ़ाने के लिए नए टैक्स लगाने की भी मांग रखी थी।

स्थानीय निकाय विभाग के प्रमुख सचिव की ओर से जारी आदेश में केंद्र सरकार की शर्तों का हवाला देते हुए कहा गया है कि प्रॉपर्टी के कलेक्टर रेट के अनुसार प्रत्येक 3 साल में प्रॉपर्टी टैक्स का रेट भी रिव्यू कर बढ़ाया जाएगा। इससे नगर निगम अपने स्तर पर आय बढ़ा सकेगा। इस बारे में एडिशनल कमिश्नर सुरिंद्र सिंह ने कहा कि अभी रेट रिव्यू किए जा रहे हैं, उस पर नया हाउस बनने पर चर्चा की जाएगी।

सिटी में प्रॉपर्टी टैक्स धारक साढ़े 35 हजार यूनिट़

सवा 2 लाख की आबादी वाले पठानकोट नगर निगम के अधीन कुल 57 हजार 933 उपभोक्ता हैं। इसमें से साढ़े 22 हजार उपभोक्ताओं को राज्य सरकार की ओर से से प्रापर्टी टैक्स में छूट दी गई है। इसमें पांच मरला से कम सिंगल स्टोरी, सेना में कार्यरत या विधवा धारक को प्रति वर्ष 5 हजार का बनने वाला टैक्स माफ किया हुआ है।

जबकि प्रापर्टी टैक्स धारक साढ़े 35 हजार हैं, जिनमें रेजीडेंशल 24 हजार, कामर्शियल 8 हजार 860, मिक्स 1 हजार 680, इंडस्ट्रीज 620 और दो मॉल शामिल है। इनसे वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए 5 करोड़ का राजस्व वसूलने का लक्ष्य तय किया गया था, जबकि साल 2020-21 के दौरान 3 करोड़ 10 लाख 74 हजार रुपए राजस्व निगम के खाते में आया है। इसके पीछे शुरूआती तीन महीने में कोरोना के चलते लॉकडाउन से सबकुछ बंद होना बताया गया गया है। 2019-20 वित्तीय वर्ष में भी निगम को प्रापर्टी टैक्स से 3 करोड़ 97 लाख 42 हजार का राजस्व प्राप्त हुआ था।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने के लिए प्रयासरत रहेंगे। घर में किसी नवीन वस्तु की खरीदारी भी संभव है। किसी संबंधी की परेशानी में उसकी सहायता करना आपको खुशी प्रदान करेगा। नेगेटिव- नक...

    और पढ़ें