मांग:पंजाब स्टेट पेंशनर ज्वाइंट फ्रंट की मीटिंग 28 फीसदी डीए जारी करने की मांग, 17 दिसंबर को पेंशनर-डे मनाने का फैसला

पठानकोटएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • इस मौके पर युद्धवीर सेन, चमन लाल गुप्ता, सुखनिंद्र शर्मा भी मौजूद थे

पंजाब स्टेट पेंशनर ज्वाइंट फ्रंट पठानकोट की मीटिंग सीनियर कन्वीनर नरेश कुमार की अध्यक्षता में खानपुर में हुई। मीटिंग में कन्वीनर रामदास, विक्रमजीत, मास्टर सत्य प्रकाश, प्रिंसिपल मंगल दास और लाल चंद विशेष तौर पर उपस्थित हुए। इस मौके पर पेंशनरों की मांगों पर चर्चा की गई। सीनियर कन्वीनर नरेश कुमार ने कहा कि सरकार की ओर से लागू पेंशन दोहराई का फार्मूला किसी भी स्वीकार नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पहले ही डीए का लाखों रूपए बकाया सरकार दबाए बैठी है और अब पे-कीशन कैबिनेट कमेटी की सिफारिशों को नजर अंदाज कर पेंशनरों पर मनमर्जी का फार्मूला लागू किया है।

इसके साथ ही उन्होंने मांग करते हुए कहा कि पेंशन दोहराई के लिए 2.59 गुणांक का नोटिफिकेशन जारी किया जाए और 29 अक्टूबर 2021 के नोटिफिकेशन को रद्द किया जाए, 28 फीसदी डीए पेंशनरों को भी जारी किया जाए, पेंशनरों को 2 हजार रूपए प्रति महीना मेडिकल भत्ता दिया जाए और 1 जनवरी 2016 के बाद बढ़ी पेंशन का बकायदा एकमुश्त जारी किया जाए। इसके अलावा उन्होंने 85 साल से ऊपर से पेंशनरों को 100 फीसदी पेंशन का लाभ देने की मांग की गई। इससे पहले 17 दिसंबर को पेंशनर दिवस की तैयारियों के बारे में भी चर्चा की गई। उन्होंने बताया कि शाहपुर रोड पर दुर्गा ज्योति भवन में पेंशनर दिवस मनाया जाएगा। इसमें सहायक कमिश्नर जगरूप सिंह ग्रेवाल और रिटायर्ड सहायक रजिस्ट्रार कोआपरेटिव सोसायटी अशोक शर्मा विशेष तौर पर शिरकत करेंगे। इस मौके पर युद्धवीर सेन, चमन लाल गुप्ता, सुखनिंद्र शर्मा भी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...