पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

परेशानी:वैट असेसमेंट को जिले के 472 व्यापारियों से मांगा 6 साल पुराना रिकार्ड, कारोबारी बोले-इतनी पुरानी रसीदें कहां से ढूंढकर लाएं

पठानकोट8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना काल में मंदी से जूझ रहे उद्योग, सेल्स टैक्स विभाग के नोटिसों पर व्यापारियों में रोष

सेल्स टैक्स डिपार्टमेंट की ओर से 6 साल पुराने साल 2013-14 की वैट की दोबारा से असेसमेंट के लिए प्रदेश के 56 हजार व्यापारियों को नोटिस जारी किए गए हैं। इनमें जिला पठानकोट के 472 व्यापारी शामिल हैं, जिनसे वैट वैट असेसमेंट को 6 साल पुराना रिकार्ड तलब किया है।

कोरोना की मार के चलते मंदी से गुजर रहे व्यापारियों में सेल्स टैक्स के नोटिसों के हड़कंप की स्थिति है और पठानकोट व्यापार मंडल ने डिपार्टमेंट के नोटिस का विरोध करते हुए कहा कि 5 साल पुराना रिकार्ड सरकारी दफ्तरों में नहीं मिलता है और 6 साल पुरानी रसीदें व्यापारी कहां से ढूंढ़कर लाएं। बता दें कि जिले के लगभग 6 हजार रजिस्टर्ड डीलरों में से 472 डीलरों को साल 2013-14 में दोबारा से वैट असेसमेंट के लिए कंप्यूटर के जरिए चयनित किया गया है। उनके क्लेम और वैट भुगतान में वेरिएशन रही है।

इनकी सूची डिपार्टमेंट ने कंप्यूटर के जरिए बनाई है। इसलिए ऐसे डीलरों को नोटिस जारी कर उनसे वैट भुगतान की पुरानी रसीदें और क्लेम का रिकार्ड मांगा गया है। सेल्स टैक्स अधिकारियों का कहना है कि कंप्यूटराइज्ड नोटिस जारी किए गए हैं। यदि टैक्स अदा किया गया है तो व्यापारी पर कोई चार्ज नहीं लगेगा। इसलिए रिकार्ड मंगवाकर वैरीफाई करवाया जा रहा है।

मदद की बजाय नोटिस भेज तंग न किया जाए : प्रधान अरोड़ा
पठानकोट व्यापार मंडल के प्रधान नरेश अरोड़ा ने कहा कि 6 साल पुराने सी-फार्म जमा करवाने के लिए व्यापारियों को नोटिस भेजा जा रहा है। जबकि कोविड-19 फैलने के बाद सारा कारोबार लीक से उतरा हुआ है। कारोबारियों को सरकार की मदद की जरूरत है और सरकार को व्यापारिक माहौल ठीक करने के लिए कदम उठाने चाहिए, लेकिन पंजाब का टैक्सेशन डिपार्टमेंट 6 साल पुराने वैट असेसमेंट के नोटिस भेजकर लोगों को परेशान कर रहा है।

दफ्तर में रिकार्ड मौजूद है, चेक कर ले विभाग : मनिंद्र
व्यापार मंडल पठानकोट के महासचिव मनिंद्र सिंह ने कहा कि कारोबार बुरे दौर से गुजर रहे हैं। अब नोटिस जारी कर मुश्किलें बढ़ाई जा रही हैं। व्यापारियों ने टैक्स अदा किया है। सरकारी दफ्तरों में रिकार्ड पड़ा है, उसे चेक कर देख सकते हैं। 6 साल पुरानी रसीदें कहां से लाएं। कोरोना के चलते सरकार ने दफ्तरों में पब्लिक डीलिंग कम की है और अब नोटिस लेकर 452 व्यापारी सेल्स टैक्स दफ्तर जाएंगे तो महामारी का डर भी रहेगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- कुछ महत्वपूर्ण नए संपर्क स्थापित होंगे जो कि बहुत ही लाभदायक रहेंगे। अपने भविष्य संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने का उचित समय है। कोई शुभ कार्य भी संपन्न होगा। इस समय आपको अपनी काबिलियत प्रदर्...

और पढ़ें