आंदोलन जारी:किसान-मजदूरों का जत्था दिल्ली रवाना, बोले तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ संघर्ष जारी रखेंगे

सुल्तानपुर लोधी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहा आंदोलन हर वर्ग के लोगों का आंदोलन बन गया : राणा

कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों में आक्रोश कम नहीं हो रहा है। शनिवार को संयुक्त किसान मोर्चा में शामिल कुल हिंद किसान सभा व अन्य जत्थेबंदियों का जत्था गांव चक्क कोटला और आसपास के गांवों के किसान व मजदूरों का जत्था सिंघू बार्डर के लिए सीनियर नेता एडवाेकेट राजिंद्र सिंह राणा व राजविंदर सिंह राजू की अगुवाई में रवाना हुआ।

इस मौके किसानों ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। एडवोकेट राणा ने कहा कि किसान आंदोलन किसानों की मांगों के अलावा उपभोक्ताओं व हर वर्ग का आंदोलन बन गया है। कुल हिंद किसान सभा कपूरथला के प्रधान मास्टर चरण सिंह हैबतपुर ने कहा कि कृषि विधेयक को वापस करवाने के लिए शुरू हुआ आंदोलन सभी लोगों के अधिकारों की सुरक्षा करने का आंदोलन बन गया है।

उन्होंने कहा कि तीनों कानून वापस होने तक संघर्ष को जारी रखा जाएगा। इस अवसर पर राजविन्दर सिंह राजू, सरूप सिंह चक्क कोटला, कमलदीप सिंह, जगनिन्दर सिंह, साहिब सिंह महतपुर, सुखविन्दर सिंह, मुख्तयार सिंह चक्क कोटला, करनैल सिंह नंबरदार, संतोख सिंह शेरपुर दोनां, सरवन सिंह कर्मजीतपुर, रौणकी राम कर्मजीतपुर, विश्वजोत सिंह चक्क कोटला, जसमिलन सिंह, बलदेव सिंह, हरबंस सिंह, मुकन्द सिंह भुलाणा, भारा मल्ल उग्गी भट्‌टी, हरमिन्दर सिंह हुसैनपुर, कुलवंत सिंह सरपंच, जोगा सिंह पूर्व सरपंच उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...