पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चुनाव:निगम चुनाव में ‘आप’ का पहला प्रदर्शन-59 प्रत्याशियों में कोई भी रनर अप तक नहीं पहुंचा

पठानकोट14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • शिअद ने भी पहली बार खाता खोला तो कई आजाद कैंडिडेट ने विजेता को दी कड़ी टक्कर
  • आप नेता बोले...हर वार्ड से मिले वोट, सरकारी मशीनरियों का दुरुपयोग कर जीता गया चुनाव

पिछले विधान सभा चुनावों की तरह इस बार निगम चुनावों में भी आम आदमी पार्टी का प्रदर्शन सभी से खराब रहा। राज्य में निकाय चुनावों में वह पहली बार उतरी थी लेकिन पठानकोट निगम में 44 और सुजानपुर कौंसिल में 15 कैंडिडेट चुनाव मैदान में उतरे लेकिन कोई भी रनर अप यानि दूसरे स्थान तक नहीं पहुंच सका। हालांकि कुछ वार्डों में उनके कैंडिडेट ने 500 से अधिक वोट हासिल किए। दूसरी ओर भाजपा से अलग होकर अकाली दल पहली बार चुनाव मैदान में उतरा और खाता भी खोल लिया। कई वार्डों में आजाद कैंडिडेट का प्रदर्शन बेहतर रहा और निगम में एक वार्ड भी जीता।

पठानकोट नगर निगम और सुजानपुर कौंसिल में आम आदमी पार्टी ने 59 कैंडिडेट चुनाव मैदान में उतारे थे जिसमें से कोई कैंडिडेट विजेता कैंडिडेट के मुकाबले में नहीं पहुंच सका। दूसरे नंबर तक भी कोई नहीं पहुंचा। हालांकि निगम के वार्ड 29 में आप की सुमन देवी ने 557 वोट हासिल किए लेकिन वो तीसरे स्थान पर रहीं। वार्ड 29 आप नेता रमेश टोला के प्रभाव का वार्ड है।

इसी प्रकार वार्ड 31 की आरती बाला ने 408 और वार्ड 24 सैली कुलियां के राजिंदर कुमार ने 445 वोट लिए लेकिन वे भी तीसरे स्थान पर ही रहे। आप नेता रमेश टोला कहते हैं कि निकाय चुनावों में उतरने का पार्टी का मकसद था बूथ स्तर पर संगठन को खड़ा करना। पार्टी को हर वार्ड में वोट भी मिले। पंजाब में आप का वोट प्रतिशत 17.5 फीसदी रहा। निकाय चुनावों में सरकार का प्रभाव होता है। सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग किया गया पर आम आदमी पार्टी ने शराब और पैसा बांटे बगैर चुनाव लड़ा।

आजाद प्रत्याशियों ने भाजपा व कांग्रेस के दिग्गजों को दी कड़ी टक्कर-

आजाद उम्मीदवार अनुराधा महज 98 वोटों से हारीं- आम आदमी पार्टी की निराशाजनक प्रदर्शन के दौर में कई आजाद कैंडिडेट ने कांग्रेस और भाजपा के विजेता कैंडिडेट को कड़ी टक्कर दी और विपक्ष की जगह आजाद ने बेहतर प्रदर्शन किया। पठानकोट के वार्ड 11 में विजेता रही कांग्रेस की अनीता देवी आजाद कैंडिडेट अनुराधा से महज 98 वोटों से जीत सकीं। यहां भाजपा कैंडिडेट सुमन देवी तीसरे स्थान पर रहीं। वार्ड 45 में जीतीं कांग्रेस की शालू रानी को 953 वोट तो आजाद सोनिका जसवाल को 636 वोट मिले भाजपा की संगीता यहां भी तीसरे स्थान पर रहीं।

वार्ड 47 में जीते अकाली दल कैंडिडेट रितिका को 1066 वोट तो कांग्रेस की गुरमीत कौर को 873 मिले जबकि भाजपा की बलविंदर कौर 871 वोट लेकर तीसरे स्थान पर रहीं। वार्ड 23 में विजेता भाजपा की रजनी बाला को 612 तो आजाद काजल को 542 और कांग्रेस की सुरेखा 417 वोट लेकर तीसरे स्थान पर रहीं। यही नहीं वार्ड 20 में अकाली कैंडिडेट नानकचंद ने भाजपा कैंडिडेट को पछाड़ दूसरा स्थान हासिल कर लिया। यहां से विजेता कांग्रेस के राकेश बबली को 834 तो शिअद के नानक को 330 वोट मिले और भाजपा के जवाहर लाल 262 पर सिमट गए।

उम्मीदों पर फिरा पानी-कई धुरंधर हारे चुनाव- भाजपा के पूर्व मेयर अनिल वासुदेवा प्रमुख रहे जिनकी पत्नी राशि वासुदेवा ने कांग्रेस की संतोष अग्रवाल से कड़ा मुकाबला करते हुए 159 वोटों से जीत हासिल कर ली। कांग्रेस छोड़ भाजपा में गए और एमएलए विज के मुखर विरोधी रहे योगेश ठाकुर खुद चुनाव हारे और उनका करीबी रिंका कुमार भी हार गए। वहीं भाजपा से कांग्रेस में आए नरिंद्र निंदो भी मीनू रामपाल से हार गए। भाजपा पार्षद सुरेश पिंटू पत्नी को नहीं जिता सके, भाजपा के ही विजय काटल पहली बार चुनाव लड़ी कांग्रेस की रजनी से 6 वोटों से हार गए।

भाजपा से 4 बार के पार्षद विजय चूनी भी अपनी बहू सोनिया को नहीं जिता सके और हार का मुंह देखना पड़ा। भाजपा पार्षद रहे अश्वनी शर्मा के करीबी राकेश औल भी नितिन लाडी से हार गए दोनों होटल कारोबारियों के बीच मुकाबला था। वार्ड 1 खानपुर से भाजपा के पूर्व पार्षद बलविंदर कुमार बिल्ला भी हारे। भाजपा के ही अमित डोगरा को पहली बार चुनाव लड़े अमित शर्मा ने हरा दिया। भाजपा के शमशेर ठाकुर, नीतू रसवान, गुलशन महाजन भी हारे। उधर विधायक अमित विज ने कुछ वार्डों में नए प्रयोग किए जहां कामयाबी नहीं मिली। वार्ड 49 में महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष रंजना महाजन का टिकट काट रीना महाजन को दिया जहां हार मिली।

आजाद पार्षद सुरेंद्र मन्हास कांग्रेस में शामिल - सुजानपुर के नगर कौंसिल चुनाव में भाजपा से बागी होकर आजाद रूप से वार्ड नंबर 12 से चुनाव जीतने वाले सुरेंद्र मन्हास ने आज एडवोकेट भानु प्रताप सिंह के नेतृत्व में पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ से मुलाकात की। जाखड़ की ओर से सुजानपुर में कांग्रेस की शानदार जीत पर पार्टी नेताओं को बधाई दी।

इस दौरान जाखड़ ने पार्षद सुरेंद्र मन्हास को कांग्रेस का सिरोपा डालकर उन्हें पार्टी में ज्वाॅइन करवाया। मन्हास ने कहा कि वह ठाकुर भानु प्रताप सिंह के नेतृत्व में सुजानपुर में कांग्रेस पार्टी के संगठन की मजबूती के लिए कार्य करेंगे तथा ज्यादा से ज्यादा युवाओं को पार्टी की नीतियों से जोड़ेंगे। अवसर पर कैप्टन संदीप संधू, कैबिनेट मंत्री भारत भूषण आशू, पूर्व जिला अध्यक्ष संजीव बैंस, एडवोकेट ठाकुर भानु प्रताप सिंह, ठाकुर साहिब सिंह साबा, पार्षद महेंद्र बाली, सरपंच भरत सलारिया, पार्षद तरसेम, मनीष बजाज, पुनीत कुमार, अशोक शर्मा उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही है। व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। बच्चों की शिक्षा और करियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी आ...

    और पढ़ें