पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्राॅपर्टी विवाद:डीसी ऑफिस से पहुंची टीम ने दिव्यांग डाॅ. सोनिया को गोयल निवास में दिलाई एंट्री

पठानकोट20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दिव्यांगता सर्टिफिकेट डीसी को लौटाने की चेतावनी के बाद एक्शन

शहर के मशहूर डाॅ. गोयल परिवार में प्राॅपर्टी व पारिवारिक विवाद के चलते घर से निकाली दिव्यांग डाॅ. सोनिया की खबर भास्कर में प्रकाशित हाेने के बाद डिपार्टमेंट सोशल सिक्योरिटी, वुमेन एंड चाइल्ड डेवलेपमेंट की टीम ने बुधवार पठानकोट पहुंच पटेल चौक स्थित गोयल निवास में इंट्री कराई।

हालांकि टीम के पहुंचने से पहले उनके भाई डाॅ. विशाल गोयल अपनी फैमिली के साथ एक दिन पहले ही घर छोड़कर चले गए थे, जिन्हें टीम द्वारा बार-बार काॅल कर बुलाने पर भी वह पेश नहीं हुए और अपने पीआरओ प्रदीप, सुभाष शर्मा को भेज दिया। उनकी अनुपस्थिति में दोनों के हस्ताक्षर लेकर टीम ने डाॅ. सोनिया को घर के भीतर भेजा तथा किसी भी प्रकार की दिक्कत आने पर संपर्क करने का आश्वासन देकर वापस लौट गई। इस दौरान टीम ने घर की सारी फुटेज को अपने कब्जे में लेकर डाॅ. सोनिया के तोड़े गए व्हीलचेयर रैंप का निरीक्षण भी किया।

पुलिस से की उत्पीड़न के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग
डॉ. सोनिया द्वारा डीसी को भारत सरकार से मिला दिव्यांगता सर्टिफिकेट लौटाने की चेतावनी के बाद बुधवार काे डीसी आॅफिस से पहुंची सोशल सिक्योरिटी एंड वुमेन व चाइल्ड डिवेलपमेंट विभाग की सखी वन स्टाप सेंटर की इंचार्ज सुनैना के नेतृत्व में टीम ने आते ही कागजी कार्रवाई निपटाने के बाद डाॅ. सोनिया को घर में प्रवेश करवा दिया है। इसके बाद डाॅ. सोनिया ने अभी फिलहाल दिव्यांग प्रमाण पत्र को लौटाना कैंसिल कर दिया है। उन्होंने मांग की है कि उत्पीड़न के लिए पुलिस की ओर से एफआईआर दर्ज की जानी चाहिए।

डॉ. सोनिया का भाई डॉ. विशाल गोयल पर घर से निकालने का था आरोप
शहर के मशहूर डाक्टर गोयल परिवार के बीच प्राॅपर्टी और पारिवारिक विवाद में सिगमा डायग्नोस्टिक सेंटर संचालित करने वाली एमबीबीएस दिव्यांग डाॅ. सोनिया गोयल ने पठानकोट किडनी अस्पताल संचालित करने वाले अपने भाई विशाल गोयल पर उन्हें घर से धक्के से निकाल देने और उत्पीड़न करने की सीएम, पीएम से लेकर पुलिस तक शिकायत की थी और ऐलान किया था कि दिव्यांग होने के बावजूद पुलिस ने भी उन्हें न्याय नहीं दिलाया, इसलिए वह 7 जुलाई को डीसी पठानकोट से मिलकर उन्हें भारत सरकार से मिला अपना दिव्यांगता सर्टिफिकेट वापस करेंगी। हालांकि, इससे पहले ही डीसी आॅफिस से पहुंची टीम ने कार्रवाई करते हुए डॉ. सोनिया की गोयल निवास में एंट्री करवा दी।

खबरें और भी हैं...