राहत भरी खबर / 23 दिन बाद रोपड़ जिला दोबारा कोरोना मुक्त, एकमात्र मरीज भी ठीक होकर घर लौटा

गांव पहुंचने पर गुरनाम सिंह का स्वागत करते हकीम हरमिंदर पाल सिंह और अन्य। गांव पहुंचने पर गुरनाम सिंह का स्वागत करते हकीम हरमिंदर पाल सिंह और अन्य।
X
गांव पहुंचने पर गुरनाम सिंह का स्वागत करते हकीम हरमिंदर पाल सिंह और अन्य।गांव पहुंचने पर गुरनाम सिंह का स्वागत करते हकीम हरमिंदर पाल सिंह और अन्य।

  • सभी 59 कोरोना संक्रमित ठीक होकर घर लौटे
  • कोरोना को हराकर गांव पहुंचे गुरनाम का किया स्वागत

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:57 AM IST

रोपड़. राहत की खबर है कि जिले में बचे एक कोरोना पॉजिटिव मरीज की रिपोर्ट भी निगेटिव आ गई है, इससे जिला पूरी तरह कोरोना मुक्त हो गया है। रोपड़ शहर जल्द ही ग्रीन जोन में शामिल हो जाएगा। इसके बावजूद लोगों को सरकारी नियमों का पालन व संयम बनाकर रखना होगा ताकि जिला कोरोना मुक्त ही रहे। रोपड़ शहर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 59 थी। जबकि एक की मौत हो गई थी। लेकिन धीरे-धीरे उक्त मरीजों की संख्या कम होती चली गई और शनिवार को रोपड़ शहर पूरी तरह से कोरोना मुक्त हो गया है।

बता दें कि श्री हजूर साहिब से आए श्रद्धालुओं और रोडवेज के ड्राइवरों में कोरोना के लक्ष्ण मिलने से दोबारा रोपड़ जिले में मरीजों की गिनती करीब 46 हो गई थी। इसमें सिविल अस्पताल रोपड़ के एसएमओ समेत 12 सेहत कर्मचारी भी शामिल थे। जिक्रयोग्य है कि रोपड़ शहर अब दूसरी बार कोरोना मुक्त हुआ है।

अब शहर को कोरोना मुक्त रखने के लिए लोगों को सरकार द्वारा दिए निर्देशों का पालन करते हुए मुंह पर मास्क और सोशल डिस्टेंस रखना होगा। बता दें कि रोपड़ शहर में सबसे पहला कोरोना पॉजिटिव केस 3 अप्रैल को रोपड़ के ब्लॉक मोरिंडा के गांव चतामली की सरपंच का पति आया था। इसके बाद उसकी पत्नी व बेटा भी कोरोना पॉजिटिव आ गए थे। सरपंच की कुछ दिन बाद मौत हो गई थी जबकि उनकी पत्नी और बेटा ठीक हो गए थे। इसके बाद 22 अप्रैल से लेकर 30 तक कोई केस नया नहीं आया था लेकिन 30 अप्रैल को नए केस आए थे।

नजदीकी गांव मांगेवाल के कोरोना पॉजिटिव गुरनाम सिंह के ठीक होने के बाद वापस गांव पहुंचने पर ढोल नगाड़ों के साथ उनका भव्य स्वागत किया गया। सबसे पहले सारे परिवार ने गुरुद्वारा शहीदां सिंह माथा टेका। श्री गुरु गोबिंद सिंह स्पोर्ट्स और कल्चरल क्लब के प्रधान हकीम हरमिंदर पाल सिंह मिनहास ने कहा कि बहुत खुशी की बात है कि गांव का एक मात्र कोरोना मरीज ठीक होकर गांव पहुंचा है। वह सेहत विभाग और प्रशासन के किए प्रबंधों की प्रशंसा करते हैं।

उन्होंने कहा कि प्रशासन के बढ़िया प्रबंधों के कारण ही जिला कोरोना मुक्त हुआ है। मरीज गुरनाम सिंह ने कहा कि ठीक होने के बाद घर पहुंचने पर वह बहुत खुश है। इसके लिए उन्होंने जिला प्रशासन की प्रशंसा की। हकीम मिनहास ने गुरनाम सिंह और महैण के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद ठीक हो चुके मरीज शेर मोहम्मद का परिवार सहित सम्मान किया।

सम्मान समारोह के बाद उनको ढोल नगाड़ों के साथ घर तक लाया गया। इस मौके अजीत सिंह, चरन सिंह, धर्म पाल, गुरपाल सिंह, सरवन सिंह, तरलोचन सिंह, सुखदेव सिंह सुखा, राम कुमार, भजन कुमार, शकुंतला देवी, सुच्चा सिंह, इकबाल सिंह बाला, अशरफ ख़ान, रुलदा ढेर, अशोक मुहम्मद आदि मौजूद थे।

जिले में 1704 के लिए गए हैं सैंपल, 71 की रिपोर्ट पेंडिंग

रोपड़ जिले में अब तक 1704 लोगों के सैंपल लिए गए हैं, जिसमें से 1566 लोग निगेटिव हैं और 71 लोगों की रिपोर्ट पेंडिंग हैं। शनिवार को 60 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई हैं और 59 लोग कोरोना से ठीक हो गए हैं। जिन्हें उनके घरों में क्वारेंटाइन किया गया है।

एकदम केस बढ़ने से डर गए थे जिलावासी

बता दें कि जिले में एकदम से कोरोना के मामले बढ़ने के बाद लोग डर गए थे। सभी का इलाज ज्ञान सागर मेडिकल कॉलेज में चल रहा था। इसके बाद 16 मई को 57 कोरोना पॉजिटिव मरीजों में से 31 की रिपोर्ट निगेटिव आई थी। इसके बाद 17 मई को 23 पॉजिटिव मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव आ गई थी। इसके उपरांत कोरोना पॉजिटिव केसों की संख्या 5 रह गई थी। 20 मई को 2 मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव और फिर दो लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आ गई थी। बाकी बचे एक मरीज की रिपोर्ट शनिवार को निगेटिव आई है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना