फूड सेफ्टी का पालन करने के निर्देश:मिठाई में गहरे रंग का इस्तेमाल न करें हलवाई : सीएमओ

रोपड़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हलवाई यूनियन के साथ मीटिंग करते सीएमओ डॉ. परमिंदर कुमार। - Dainik Bhaskar
हलवाई यूनियन के साथ मीटिंग करते सीएमओ डॉ. परमिंदर कुमार।
  • त्योहारों के मद्देनजर हलवाई यूनियन से मीटिंग

सीएमओ रोपड़ डॉ. परमिंदर कुमार की अगुवाई में त्योहारों के सीजन के मद्देनजर रोपड़ शहर की हलवाई यूनियन के नुमाइंदों के साथ मीटिंग की गई और फूड सेफ्टी एक्ट का पालन करने के निर्देश जारी किए। इस मौके सहायक फूड कमिशनर हरप्रीत कौर और फूड सेफ्टी अफसर विवेक कुमार उपस्थित थे।

इस मौके सभी हलवाइयों से हिदायत की गई कि अपनी वर्कशॉप को साफ रखा जाए। मिठाइयों को मलमल के कपड़े के साथ ढंककर रखा जाए। मिठाइयों की ट्रे पर बेस्ट बीफॉर तिथि लिखना यकीनी बनाया जाए। मिठाई बनाने वाले वर्करों की निजी सफाई की तरफ विशेष ध्यान दिया जाए और वह पूरी तरह मेडिकली फिट हों।

दूध, घी, पनीर, खोआ आदि भरोसे योग्य फार्मों से खरीदा जाए। कच्चा माल बढ़िया क्वालिटी का प्रयोग किया जाए। मिठाइयों में एफएसएसएआई द्वारा प्रमाणित रंग जिस पर एफएसएसएआई लाईसेंस नंबर लिखा हो, प्रयोग किए जाएं। चमचम में गुलाबी रंग का प्रयोग न किया जाए क्योंकि यह एफएसएसएआई द्वारा प्रमाणित नहीं है।

यह केमिकल डाई है जोकि कैंसर का कारण बन सकती है। मिठाइयों में चांदी का वर्क उच्च क्वालिटी का प्रयोग किया जाए। एल्युमीनियम का वर्क प्रयोग करने पर पाबंदी है क्योंकि यह सेहत के लिए हानिकारक है। मिठाइयों को अखबारों की बजाए मलमल के कपड़े के साथ ढंका जाए। मिठाइयों में ज्यादा गहरे रंग का प्रयोग ना किया जाए। बिल्कुल फीके रंग की मिठाइयां बनाई जाएं।

खबरें और भी हैं...