पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अवार्ड:केवीके रोपड़ को जोन-1 के 69 कृषि विज्ञान केंद्रों में मिला ‘बेस्ट केवीके’ का अवार्ड

रोपड़3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जानकारी देते अधिकारी। - Dainik Bhaskar
जानकारी देते अधिकारी।
  • पिछले साल की कारगुजारी व आगे की योजना के लिए मिला अवार्ड

भारतीय खेती खोज परिषद (आईसीएआर) द्वारा जोन-1 के केवीके की वार्षिक ऑनलाइन वर्कशॉप का आयोजन किया गया। इसमें विभिन्न राज्यों के कुल 69 कृषि विज्ञान केंद्रों ने हिस्सा लिया। इस प्रोग्राम में जम्मू कश्मीर और लद्दाख के 21, उत्तराखंड के 13, हिमाचल प्रदेश के 13 और पंजाब के 22 कृषि विज्ञान केंद्रों ने अपनी साल भर की कारगुजारी की जानकारी पेश की और आने वाले साल की गतिविधियों संबंधी जानकारी दी।

वर्ष 2020-21 की उपलब्धियों और वार्षिक गतिविधियों की सफलता के आधार पर कृषि विज्ञान केंद्र रोपड़ को जोन-1 के कुल 69 कृषि विज्ञान केंद्रों में से बेस्ट केवीके के तौर पर दूसरे अवार्ड से सम्मानित किया गया। इस वर्कशॉप में आईसीएआर के डीजी और सचिव (डीएआरई) डॉ. तरलोचन मोहपात्रा ने मुख्य मेहमान और पंजाब एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी लुधियाना के पूर्व वाइस चांसलर डॉ. बीएस ढिल्लों ने विशेष मेहमान के तौर पर शिरकत की।

आईसीएआर अटारी जोन-1 के जोनल प्रोजेक्ट डायरेक्टर डॉ. राजबीर सिंह बराड़ और पंजाब एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी लुधियाना के डायरेक्टर पसार शिक्षा डॉ. जेएस माहल ने वर्कशॉप के टेक्निकल सेशनों की अगुवाई की। इस वर्कशाप में कुल 5 तकनीकी सेशन आयोजित किए गए। यह जानकारी सांझी करते हुए केंद्र के डिप्टी डायरेक्टर डॉ. गुरप्रीत सिंह मक्कड़ ने डायरेक्टोरेट पसार शिक्षा पीएयू और आईसीएआर अटारी जोन-1 का धन्यवाद किया। उन्होंने केवीके की पूरी टीम और जिला रोपड़ के किसानों के सहयोग के लिए उनका धन्यवाद किया।

खबरें और भी हैं...