मजदूर विरोधी संशोधन की निंदा / फैक्ट्रियों के गेटों के आगे रैलियां, मजदूर विरोधी संशोधन रद्द करने की मांग

X

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 08:04 AM IST

रोपड़. सीटू समेत देश की प्रमुख यूनियनों के आह्वान पर विभिन्न फैक्ट्रियों के गेट पर सीटू पंजाब के अध्यक्ष कामरेड महा सिंह रौड़ी की अगुवाई में रोष रैलियां की गई और सरकार द्वारा लेबर कानूनों में मजदूर विरोधी संशोधन की निंदा की। जिला नवांशहर के आसरों उद्योगिक क्षेत्र में हेल्थ कैपस लिमिटेड फतेहपुर, सिशव पेपर मिल बना टौंसा, एसएमएल इसुजू आसरों, स्वराज माजदा कान्ट्रैक्ट ड्राइवर वर्कर यूनियन आसरों के गेट पर रैलियों में कामरेड महा सिंह रौड़ी तथा जिला सचिव जसवंत सैनी ने कहा कि मजदूर कानून, ट्रेड यूनियन कानूनों में की मजदूर विरोधी संशोधन रद्द की जाए, लॉकडाउन के दौरान सरकारों द्वारा ऐलाने मार्च व अप्रैल माह के वेतन वर्करों के खातों में डाले जाएं, डीए की किस्तें वर्करों के वेतन में जोड़ीं जाए, कोविड महामारी से लड़ने वाले ग्रामीण चौकीदार, मिड-डे-मील वर्करों, आंगनबाड़ी व आशा वर्करों का 50 लाख रुपए का बीमा किया जाए। 
इन रैलियों में हेल्थ कैपस वर्कर यूनियन के महासचिव जगदीश कुमार भूरा, अध्यक्ष जसविंदर सिंह, पेपर मिल वर्कर यूनियन के अध्यक्ष भाग सिंह, महासचिव देवमुनी, स्वराज माजदा वर्कर यूनियन अध्यक्ष परमिंदर, उपाध्यक्ष गुरजंट सिंह, ड्राइवर यूनियन के अध्यक्ष सरबजीत सिंह तथा महासचिव प्रीतम सिंह आदि उपस्थित थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना