पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सख्ती:बच्चों के माता-पिता को दी चेतावनी- दोबारा भीख मंगवाई तो कार्रवाई होगी

रोपड़8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बाल विकास विभाग ने भीख मांगने वाले 8 बच्चों की काउंसलिंग की

शहर के चौकों, होटलों तथा अस्पतालों के आगे भीख मांगने वाले बच्चों की मंगलवार को बाल विकास विभाग द्वारा काउंसलिंग की गई। विभाग ने पुलिस टीम की मदद से 8 बच्चों को पकड़कर उन्हें भीख की जगह अपने हाथों में किताबें पकड़कर अपने भविष्य को सुधारने की बातें समझाईं और बच्चों के परिजनों से भविष्य में भीख न मंगवाने का आश्वासन लेने के बाद बच्चे उनके सुपुर्द किए गए।

इस संबंधी जिला बाल विकास अफसर राजिंदर कौर सैनी ने बताया कि उनकी टीम समय-समय पर निरीक्षण करती रहती है। जब भी कोई बच्चा भीख मांगता मिलता है तो उसे समझाया जाता है कि भीख मांगना अच्छा काम नहीं। इसलिए आप शिक्षा ग्रहण करें। उन्होंने कहा कि शहर में भीख मांगने वाले कई बच्चों को पकड़कर समझाया गया और उनके घरों में जाकर हालातों का जायजा लेकर उनके पालन पोषण के लिए रेडक्रॉस की ओर से राशन भी वितरित करवाया गया।

उनका एक ही मनोरथ है कि कोई भी बच्चा भीख न मांगे। उन्होंने कहा कि मंगलवार को बेला चौक में पकड़े गए 8 बच्चों से लंबी काउंसलिंग करके उन्हें प्रेरित किया गया है कि वह भीख न मांगे और शिक्षा ग्रहण करें। शिक्षा विभाग को भी इन बच्चों के परिवारों के पते बताकर निवेदन किया है कि इन बच्चों को उचित शिक्षा के लिए सामग्री दी जाए। काउंसलिंग में बच्चों ने माना कि वह आगे से भीख नहीं मांगें और शिक्षा ग्रहण करेंगे।

बच्चों को उनके परिजनों के हवाले करते हुए चेतावनी दी गई है कि अगर फिर इन बच्चों को भीख मांगने के लिए मजबूर किया तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि कोई बच्चा भीख न मांगे इसके लिए सभी जरूरी सुविधाएं सरकार परिजनों को दे रही है।

खबरें और भी हैं...