• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Ropar
  • Without Taking NOC From Ropar's Contractor, The Contractor Signed The Contract Near Bhinder Nagar, The Excise Department Went And Got It Closed.

माहौल गर्माया:रोपड़ के ठेकेदार से एनओसी लिए बिना आसरों के ठेकेदार ने भिंडर नगर के पास लगाया ठेका, एक्साइज विभाग ने जाकर बंद करवाया

रोपड़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • माहौल गर्माया, आसरों का ठेकेदार बोला- एक्साइज के अधिकारियों ने किया धक्का, हाईकोर्ट जाएंगे

रोपड़-नूरपुरबेदी मार्ग पर नवांशहर के एरिया में आसरों के ठेकेदार द्वारा शराब का ठेका लगाने के लिए खोखा रखने के बाद वीरवार को विवाद हो गया। इसके बाद रोपड़ एक्साइज विभाग ने ठेका बंद करवा दिया। इसको लेकर रोपड़ के ठेकेदारों द्वारा अपत्ति जताई गई थी। जिस पर रोपड़ ईटीओ उपकार सिंह अमले के साथ वहां पहुंच गए। इसके बाद वहां पर माहौल गर्मा गया। फिलहाल रोपड़ एक्साइज टीम ने खोखे का शटर बंद करवा दिया है।

बता दें कि यहां पर ये ठेका सब वेंडर के तहत खोला जा रहा था। एक्साइज पॉलिसी के मुताबिक अगर किसी सर्कल में पहले से कुछ दूरी पर ठेका हो तो उस सर्कल के ठेकेदार से एनअोसी लेकर ही नया ठेका खोला जा सकता है। इस मामले में आसरों के ठेकेदार गुरप्रीत गुज्जर के पास नजदीक के भिंडर नगर में स्थित ठेके के ठेकेदार की एनओसी नहीं थी। जिसके चलते एक्साइज विभाग की टीम ने ठेका बंद करवा दिया। हालांकि ठेकेदार द्वारा रोपड़ टीम कोे सब वेंडर के लिए कागजात भी मौके पर दिखाए गए लेकिन एनअोसी न होने के कारण विभाग ने शटर बंद करवा दिया। मौके पर पहुंचे ईटीओ रोपड़ उपकार सिंह ने नवांशहर के एक्साइज अधिकारियों से फोन पर मामले को लेकर बात की। वहीं, नवांशहर के ईटीओ ब्रिज भूषण ने कहा कि रोपड़ एक्साइज विभाग के ऐतराज के बाद ठेका बंद करवा दिया गया है।

जानबूझकर किया जा रहा परेशान, 2 लाख जमा करवाकर ही रखा खोखा : ठेकेदार

आसरों सर्कल के ठेकेदार गुरप्रीत गुज्जर ने कहा कि वह ठेका बिलकुल लीगल तौर पर लगा रहे हैं जबकि रोपड़ की एक्साइज टीम जानबूझकर ठेका बंद करवा रही है। असल में रोपड़ का जो शराब ठेका भिंडर नगर में है वह गैरकानूनी है। क्योंकि इस ठेके की जगह गड़बागा में है। उन्होंने कहा कि 2 लाख रुपए जमा करवाकर ही उसने यहां खोखा रखवाया था। वह इसके खिलाफ हाईकोर्ट जाएंगे।

भिंडर नगर का ठेका बिल्कुल नियमों के तहत

वहीं, रोपड़ के ईटीओ उपकार सिंह ने कहा कि भिंडर नगर के ठेके के नजदीक आसरों के ठेकेदार द्वारा एक और ठेका लगाया जा रहा था जिसे बंद करवा दिया है। भिंडर नगर का ठेका बिलकुल एक्साइज विभाग के नियमों के मुताबिक लगा हुअा है। पहले भिंडर नगर व गड़बागा की एक पंचायत थी।

खबरें और भी हैं...