पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रशासन की कार्यशैली का किया विरोध:रावी नदी किनारे बने निजी स्ट्रक्चरों के मालिकों ने बैराज बांध प्रशासन के खिलाफ किया प्रदर्शन

शाहपुरकंडीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रावी नदी के किनारे बने हुए निजी स्ट्रक्चरों के मालिकों ने बैराज बांध प्रशासन की कार्यशैली के विरोध में गांव शाहपुरकंडी, मैरा, टीका डूंग, तरेहटी के लोगों ने प्रदर्शन किया। जानकारी देते प्रेम चंद, राहुल, नरेंद्र कुमार, मलकीयत सिंह ने कहा कि बैराज बांध प्रशासन ने बैराज बांध की बनने वाली झील के लिए उनकी भूमि को अधिगृहित किया है, जिसके लिए प्रभावित होने वाले आदमी का केवल मुटेशन, आधार कार्ड व अन्य संबंधित दस्तावेज ही लिए जाएं, परंतु बैराज बांध प्रशासन व उनके पूरे परिवार के दस्तावेजों की मांग कर रहा है, जो कि सरासर गलत हो रहा है।

उन्होंने बताया कि बैराज बांध प्रशासन ने भूमि अधिग्रहण नियम के तहत नोटिस निकालकर स्ट्रक्चर मालिकों, भूमि मालिकों व अन्य को अपने भूमि व आवासों के दस्तावेज जमा करवाने के लिए आदेश दिए हैं, जिस पर कई प्रभावित होने वाले लोगों ने अपने मुआवजे व रोजगार के लिए संबंधित आवासों, स्ट्रक्चरों व भूमि के दस्तावेज बैराज बांध प्रशासन को दे दिए हैं, परंतु अब बैराज बांध प्रशासन उक्त प्रभावित होने वाले परिवारों से और दस्तावेजों की मांग कर रहा है।

लोगों ने बताया कि बैराज बांध प्रशासन व सरकार उनके प्रभावित परिवारों को नाहक परेशान कर रही है। इसके लिए उनके सभी परिवार 8 जुलाई को चीफ इंजीनियर कार्यालय के बाहर विशाल प्रदर्शन करेंगे। वहीं, बैराज बांध प्रशासन के एक्सईएन अरविंद कुमार ने बताया कि सभी दस्तावेजों की मांग, उनका बैराज बांध प्रशासन सरकार व जिलाधीश के आदेशों अनुसार ही कर रहे हैं।

ये रहे मौजूद इस मौके पर केवल सिंह, अरुण, राजेश, रमेश कुमार, सुरिंद्र कुमार, रोशन लाल, नबंरदार प्रेम चंद आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...