कपूरथला थाने में युवक की मौत का मामला:3 डॉक्टरों के बोर्ड ने किया पोस्टमार्टम; गले पर मिले रस्सी के निशान

कपूरथला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक युवक रोशन लाल। - Dainik Bhaskar
मृतक युवक रोशन लाल।

पंजाब के कपूरथला में संदिग्ध परिस्थितियों में युवक रोशन लाल की मौत के मामले में मंगलवार को नया खुलासा हुआ है। सिविल अस्पताल में 3 डॉक्टरों के बोर्ड द्वारा किए गए शव के पोस्टमार्टम में मृतक रोशन के गले पर रस्सी के निशान मिले हैं। SMO संदीप धवन ने गले पर रस्सी के निशान मिलने की पुष्टि की और कहा कि मामला सुसाइड का लगता है। शरीर पर मारपीट या अन्य घाव का कोई निशान नहीं है। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है।

वहीं दूसरी तरफ उक्त मामले को लेकर संदेह के घेरे में आई सिटी थाना की पुलिस की जांच कर रहे SP D हरविंदर सिंह ने सिर्फ इतना ही बताया कि मृतक के परिवार के समक्ष सभी तथ्यों को रख उनके हर सवालों का जवाब देते हुए मामला सुलझा दिया गया है। हालांकि सिटी थाना की गतिविधिओ पर कई सवालिया निशान खड़े हो रहे है।

बोर्ड में ये डॉक्टर

रोशन लाल के शव का पोस्टमार्टम मंगलवार को तीन डॉक्टरों के बोर्ड द्वारा किया गया। जिसमें डॉ अमनदीप सिंह थिंद, डॉ अवनी सिंगला और डॉ अर्शदीप सिंह शामिल थे। जिन्होंने पोस्टमार्टम के दौरान रोशन लाल के गले पर रस्सी के निशान होने की बात की पुष्टि की है। हालाँकि पुलिस ने जाँच के नाम पर मामला सुलझाने का दावा किया है।

ये था मामला

बता दें कि रविवार देर शाम सिटी थाना के ASI राजिंदर सिंह ने गांव रत्ता नौ आबाद वासी युवक रोशन लाल के शव को सिविल अस्पताल की मोर्चरी में जमा करवाया था। जिसके बाद सिटी थाना पुलिस द्वारा उक्त युवक को चोरी के आरोप में काबू करने के उपरांत उसकी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत होने की चर्चा शुरू हो गई थी। इस मामले में प्राथमिक तौर पर सिटी थाना SHO कृपाल सिंह ने रोशन लाल को राउंडअप किए जाने की बात भी कबूली थी।

वहीं दूसरी तरफ मृतक रोशन लाल की पत्नी सीमा ने पुलिस कस्टडी में अपने पति की मौत होने के कथित आरोप लगाते हुए कहा था कि सुबह थाने से फोन आया कि हवालाती पति को रोटी दे जाओ और शाम को फोन आया कि उसकी मौत हो गई है शव ले जाओ। उक्त नंबर सिटी थाना के कांस्टेबल सुखदेव सिंह का है। जिसने फ़ोन वार्ता में माना कि जब उसने खाने के लिए जब फ़ोन किया तो रोशन लाल सिटी थाना में ही था।

लालच देकर मामला सुलझाने का संदेह

विभागीय सूत्रों की माने तो संदेह के घेरे में घिरी सिटी थाना पुलिस ने मृतक के परिवार को कथित आर्थिक लाभ का लालच देकर मामले को सुलझा दिया है। जबकि रोशन लाल के पोस्टमार्टम के दौरान डॉक्टरों के बोर्ड को गले पर मिले रस्सी के निशान यह दर्शाते हैं कि उसने सुसाइड किया है अब सवाल यह उठता है कि उसने सुसाइड कहां किया है जिसका जवाब देने के लिए कोई भी फिलहाल तैयार नहीं है।

खबरें और भी हैं...