नशे छुड़वाने के नाम पर धोखाधड़ी:नशा छुड़ाने के नाम पर ठगी का पर्दाफाश डेरे में बंधक 20 युवक छुड़वाए, 4 काबू

कपूरथला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कपूरथला पुलिस की गिरफ्त में आरोपी। - Dainik Bhaskar
कपूरथला पुलिस की गिरफ्त में आरोपी।
  • इलाज के नाम पर पीटते थे, लाखों रुपए ऐंठते थे; 5 पर केस

नशा छुड़ाने और गुरमति ज्ञान देने की आड़ में चला रहे नशा छुडाओ केंद्र शहीद बाबा दीप सिंह विद्यालय गांव रमीदी में स्थित डेरा संचालक सहित 4 लोगों को भुलत्थ पुलिस ने गिरफ्तार किया है। डेरे पर लकड़ी के डंडे, जरूरी कागजात, स्विफ्ट कार, नशीली गोलियां बरामद हुईं। पुलिस ने डेरे में बंधक बनाए हुए 20 युवकों को भी छुड़वाया है।

पुलिस का कहना है कि केंद्र संचालक बाबा जगतार सिंह नशा छुड़वाने के लिए युवकों को अपने डेरे पर ले जाता था। डेरे में नौजवानों को नशे की गोलियां दी जाती थी और उनसे मारपीट की जाती थी। बाद में युवकों को छोड़ने के बदले घरवालों को धमकाकर रुपए मांगते थे। पुलिस ने पांचों आरोपियों बाबा जगतार सिंह, सुखविंदर सिंह, बलजीत सिंह, पवित्र सिंह और पप्पू पर केस दर्ज किया है। इसमें से 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है जबकि पप्पू की गिरफ्तारी अभी नहीं हुई है। डेरे के संचालक बाबा जगतार सिंह पर 11 मामले जिले के विभिन्न थानों में पहले से ही दर्ज हैं।

बाबा जगतार सिंह से जब पूछा गया तो उसने कहा कि उनका बेटा झूठ बोल रहा है। बाबा ने इलाज के लिए 5 हजार रुपए की फिर से मांग की, जो उसके अकांउट में डाल दिए गए। बाद में नशा छुड़ाओ संचालक ने फोन कर कहा कि 30 हजार रुपए और पहुंचा दें। 6 जून को जब वह 30 हजार रुपए लेकर गांव रमीदी स्थित केंद्र में बेटे को मिलने के लिए पहुंचा तो उसके बेटे के पांव पर चोट के निशान थे। उसने रुपए बाबा को पकड़ा दिए और बेटे को साथ ले जाने की बात कही। बाबा जगतार सिंह कहा कि एक सप्ताह रुकना पड़ेगा।

खबरें और भी हैं...