अभिलाष का अभी नहीं लगा सुराग:सेना-NDRF ने 20 घंटे बाद रोका रेस्क्यू ऑपरेशन; नाले में जाली लगाई, पुलिस की पीड़ितों से पूछताछ

कपूरथला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब के कपूरथला शहर में अमृतसर रोड पर मंगलवार को गंदे नाले में गिरे डेढ़ वर्षीय बच्चे अभिलाष की तलाश में लगी सेना-NDRF ने फिलहाल सुबह तक के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन रोक दिया है। 20 घंटे बाद भी NDRF बच्चे काे नहीं तलाश पाए। अब रात को बारिश की आशंका है, ऐसे में नाले में जाली लगाई गई है, ताकि बच्चा आगे न बह जाए।

दूसरी तरफ पुलिस भी अभिलाष को लेकर उसकी मां और अन्य परिजनों से पूछताछ कर रही है। डीएसपी सब डिवीजन मनिंदरपाल सिंह ने बताया कि उक्त मामले में पीड़ित परिवार से जुड़े कुछ लोगों को पूछताछ के लिए राउंडअप किया गया है, जिनसे घटना को लेकर वैरिफिकेशन की जा रही है।

बुधवार को भी पूरा दिन बीत जाने के बाद भी बच्चे का पता नहीं चल पाया। सेना-NDRF टीम कल रात 10 बजे से बच्चे की तलाश में लगी हैं। बच्चे अभिलाष की तलाश में एनडीआरएफ की टीम ने लगभग 20 घंटे रेस्क्यू ऑपरेशन चलाने के बाद सुबह तक के लिए ऑपरेशन रोक दिया है।

जबकि मौसम विभाग द्वारा रात को बारिश होने की चेतावनी को देखते हुए NDRF की टीम ने नाले के ऊपर कई स्थानों पर जगह बनाते हुए जंगली (लोहे का जाल) लगाकर निगरानी की करने की बात भी कही है। अगर कहीं बारिश के पानी के बाहर से नाले में फंसा बच्चा बहते हुए आगे आता है तो उसको जाली से रिकवर किया जाएगा। कपूरथला के एसएसपी नवनीत सिंह ने कहा है कि जब तक बच्चा मिल नहीं जाता, तलाश जारी रहेगी।

सेना और NDRF की टीम ने बुधवार सुबह फिर से बच्चे की तलाश का ऑपरेशन शुरू कर दिया है।
सेना और NDRF की टीम ने बुधवार सुबह फिर से बच्चे की तलाश का ऑपरेशन शुरू कर दिया है।

बता दें कि कपूरथला में अमृतसर रोड पर रहने वाले एक परिवार का डेढ़ साल का बेटा अभिलाष मंगलवार दोपहर सवा 12 बजे अचानक पास से गुजर रहे नाले में जा गिरा। अभिलाष नाले पर रखे 2 खम्भों पर चल रहा था कि अचानक उसका बैलेंस बिगड़ गया और वह पानी में जा गिरा। अभिलाष की मां मनीषा ने बेटे को नाले में गिरते हुए देखा तो दौड़ते हुए नाले में छलांग लगा दी। लोगों ने महिला को तो निकाल लिया लेकिन, अभिलाष का पता नहीं चला। रात को बच्चे की तलाश का ऑपरेशन सेना और NDRF ने अपने हाथ में लग लिया था। आर्मी तथा NDRF की 29 सदस्यों की टीम का रेस्क्यू ऑपरेशन अभी भी जारी है।

कपूरथला में नाले के पास लोगों की भीड़ लगी है।
कपूरथला में नाले के पास लोगों की भीड़ लगी है।

एसएसपी कपूरथला नवनीत सिंह ने बताया कि सारी रात NDRF की टीम नाले के ऊपर बने सीमेंट के फर्श को तोड़कर बच्चे की तलाश करती रही। 150 फुट नाले को खंगाला गया, फिर भी अभी तक बच्चे का पता नहीं चल पाया है। अभी भी मौके पर NDRF की टीम का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है, जबकि जिला प्रशासन की टीम भी उनका सहयोग के लिए साथ है। उन्होंने कहा कि जब तक बच्चे का पता नहीं चलता, तब तक रेस्क्यू ऑपरेशन जारी रहेगा।

नाले के पास NDRF कह टीम और स्थानीय लोग।
नाले के पास NDRF कह टीम और स्थानीय लोग।

रात को 10 बजे बठिंडा से आई NDRF की 29 सदस्यों की टीम ने बुधवार सुबह एक बार फिर से बच्चे की तलाश के लिए मोर्चा संभाल लिया है। इससे पहले टीम ने रात को जेसीबी मशीन से नाले पर बने फर्श को तोड़ा। नाले में 150 फुट तक के एरिया में बच्चे की तलाश की। अब रेस्क्यू टीम इससे आगे के क्षेत्र में बच्चे की तलाश करेगी।

बच्चे की तलाश के लिए नाले से निकाली गई गाद।
बच्चे की तलाश के लिए नाले से निकाली गई गाद।

24 घंटे से अभिलाष के बारे में कोई सुराग न मिलता देख कर बच्चे की मां मनीषा और पिता सुरजीत कुमार का बुरा हाल है। पूरा परिवार ही रात भर से नाले के पास बैठा है। बता दें कि मनीषा ने अभिलाष को गिरता देख कर तुरंत नाले में छलांग भी लगाई थी, लेकिन वह बच्चे तक पहुंचने से पहले ही बेसुध हो गई थी। तब आसपास के लोगों ने उसे बाहर निकाला।

खबरें और भी हैं...