सोम प्रकाश बोले:आपातकाल का दौर कांग्रेस के माथे पर कलंक

फगवाड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भारत में इंदिरा गांधी सरकार की ओर से 25 जून, 1975 को लगाए गए आपातकाल की 47 साल पूरे होने पर अनीता सोम प्रकाश की देखरेख में भाजपा के मंडल अध्यक्ष परमजीत सिंह पम्मा के अगुवाई में आपातकालीन स्थिति को याद किया गया। कार्यक्रम में केंद्रीय राज्य मंत्री सोम प्रकाश कैंथ, पूर्व मेयर अरुण खोसला और जिला कपूरथला भाजपा महासचिव राजीव पाहवा मुख्य वक्ता के रूप में पहुंचे।

आपातकाल के काले दिनों को याद करते हुए केंद्रीय मंत्री सोम प्रकाश कैंथ ने कहा कि आज की पीढ़ी को शायद विश्वास भी न हो कि कैसे तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने अपनी सत्ता बचाने के लिए संविधान की धज्जियां उड़ाईं और देश में आपातकाल लगा दिया और सभी नेता अटल बिहारी वाजपेयी, लालकृष्ण आडवाणी, जय प्रकाश नारायण को आधी रात को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

प्रेस को सेंसर कर दिया गया था। कोई भी अखबार सरकार के खिलाफ नहीं लिख सकता। देश इस अवसर पर मंडल भाजपा फगवाड़ा अध्यक्ष परमजीत चाचोकी, मंडल मौली अध्यक्ष जीता पांडव, परमिंदर सिंह, बलदेव राज शर्मा, परमजीत खुराना, किरशन बजाज, सोनू रावलपिंडी योगेश प्रभाकर, अशोक गुप्ता, इंद्रजीत सोनकर, बल्लू वालिया, बंटू वालिया, चंद्र रेखा शर्मा, सोनू रावलपिंडी, अमित शुक्ला व अन्य उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...