कार्रवाई / पराली जलाने पर 20 किसानों और रोहणों खुर्द की पंचायत को डेढ़ लाख रुपए जुर्माना

X

  • सेटेलाइट अाैर पीपीसीबी की टीमों ने किया ट्रेस, अब तक 27 किसानों पर लगाया जा चुका जुर्माना, एक ने भी नहीं भरा जुर्माना

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 08:13 AM IST

खन्ना. (गुरभेज राजू) पंजाब में इस बार पिछले तीन सालों से पराली जलाने के रिकाॅर्ड मामले दर्ज हो चुके हैं। लेकिन अब भी किसान पराली को जलाकर आसमां में जहर घोलने से बाज नहीं आ रहे हैं। खन्ना हलके में भी पराली जलाने में मामलों में लगातार बढ़ाेतरी हो रही है।

पिछले चार दिनों में 9 गावों के 20 किसानों समेत रोहणों खुर्द की पंचायत पर कुल डेढ़ लाख जुर्माना किया गया है। जबकि पिछले दिनों 6 किसानोें के चालान काट 25 हजार रुपए जुर्माना किया गया था। लेकिन अभी तक एक भी किसान ने जुर्माना अदा नहीं किया है। जब तक किसान जुर्माना अदा नहीं करता, तब तक उसकी गिरदावरी में लाल एंट्री रहेगी।

संबंधित किसान को कोई भी सरकारी स्कीम का लाभ नहीं मिल सकेगा। पीपीसीबी के एक्सईएन विजय कुमार ने बताया कि जो भी किसान पराली को आग लगा रहे हैं। सरकार की हिदायत पर उनके खिलाफ सख्ती की जा रही है। किसानों को पराली को आग लगाने से परहेज करना चाहिए।

उधर, पराली को आग लगने की घटनाओं में लगातार हो रहे इजाफे से खन्ना इलाके का आईक्यूआई लेवल बढ़ रहा है। आंकड़ाें के मुताबिक 19 मई को आईक्यूआई लेवल 110, 20 मई को 87, 21 मई को 99, 22 मई को 121 अौर 23 मई को 118 दर्ज हुआ है। लाॅकडाउन में आईक्यूआई लेवल 50 से कम हो गया था। लेकिन अब लेवल में लगातार बढ़ाेतरी दर्ज हो रही है, जोकि चिंता का विषय बन गया है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना