पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बैठक :शहर की ब्लड डोनर एसोसिएशनों का फैसला, सिविल अस्पताल में नहीं जमा कराएंगे रक्त

खन्ना15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एसो. सदस्यों का आरोप- जरूरत पड़ने पर संस्था के सदस्यों को ही रक्त नहीं दिया जाता
  • अस्पताल में रक्तदान करने वालों के बैठने तक के लिए जगह का कोई इंतजाम नहीं
Advertisement
Advertisement

खन्ना की विभिन्न ब्लड डोनरज़ एसोसिएशनों की बैठक हुई। जिसमें मास्टर शाम सुंदर को ब्लड डोनर संस्थाओं का सरप्रस्त चुना गया। उनकी सरपरस्ती में आयोजित मीटिंग में विभिन्न संस्थायों के प्रतिनिधियों ने अपने विचार रखें।

नर सेवा नारायण सेवा संस्था अध्यक्ष तथा पूर्व प्रिंसिपल शाम सुंदर ने बताया कि शहर में कई संस्थएं ब्लड डोनर समय समय पर ब्लड कैंप लगाकर सिविल अस्पताल में रक्त जमा करवाती है।

सरकारी अस्पताल का भी सहयोग लिया जाता है, जबकि सारा रक्त सिविल अस्पताल में सुरक्षित करवाया जाता है। वह तो सेवा के लिए ब्लड डोनेट करती हैं तथा अस्पताल को निशुल्क ब्लड दिया जाता है, लेकिन अस्पताल प्रबंधन की तरफ से संस्थाअों की सेवाओं को अनदेखा किया जा रहा है।

जरूरत पड़ने पर संस्था के सदस्यों को ही रक्त नहीं दिया जाता। अस्पताल में रक्त दान करने वालों के लिए न तो सही बैठने के लिए जगह का कोई इंतज़ाम है। इसके अलावा दोपहर दो बजे के बाद कोई रक्तदान नहीं कर सकता।

जिस कारण कई बार जरूरतमंद मरीज को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। रक्तदान करने के बाद डोनर के लिए सरकार की तरफ मिलने वाली रिफरैशमैंट भी नामात्र दी जाती है।

क्लब सदस्यों ने फ़ैसला लिया कि वह आगे से रिफरेशमेंंट ख़ुद ही अपनी जेब में से देंगे तथा अस्पताल से रिफरेशमेंट नहीं ली जाएगी। ना ही अब से रक्तदान कैंपों में सिविल अस्पताल के लिए रक्त जमा नहीं किया जाएगा।

जब तक सिविल अस्पताल एसएमओ उनको विश्वास नहीं दिलाते कि ब्लड डोनर को जरूरत पड़ने पर हर सहायता दी जाएगी तथा उसे बनता मान सम्मान भी दिया जायेगा।

इस अवसर पर विभिन्न संस्थायों में न्यू एज वेलफेयर क्लब प्रधान संदीप सिंह, सन्नी मेहता, महांकाल ब्लड सेवा अध्यक्ष राहुल गर्ग बावा, मोहित अरोड़ा, नर सेवा नारायण सेवा अध्यक्ष मा. शाम सुंदर, निष्काम फ्री ब्लड सेवा सोसायटी के भारत भूषण जोली, ह्यूमन वेलफेयर ब्लड डोनर ऐसोसीएशन सचिव मनोज कुमार, इंडियन एमरजैंसी ब्लड डोनर ऐसोसीएशन के इंदरपाल सिंह आदि उपस्थित थे।

उधर, एसएमअो डा. राजिंदर गुलाटी ने कहा कि सिविल अस्पताल में जितने भी रक्त की यूनिटों की उपलब्धता हो उसे देने से किसी को भी मना नहीं किया जाता।

जबकि जहां तक रिफ्रेशमेंट की बात है, वह जितनी भी दी जाती है, उतना ही खर्च डाला जाता है। अगर एसोसिएशनों के सदस्यों के मन में किसी भी प्रकार का गुस्सा है तो वह बात करेंगे।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज का दिन पारिवारिक और आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदायी है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति का अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ निश्चय से पूरा करने की क्षमत...

और पढ़ें

Advertisement