पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सड़के हादसे घटाने की पहल:पहले चरण में हटाए जाएंगे 10 ब्लैक स्पॉट, अगले माह लगेंगे टेंडर

लुधियानाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इसके चलते उनकी तरफ से पंजाब के ट्रैफिक एडवाइजर नवदीप असीजा को यह काम सौंपा है। - Dainik Bhaskar
इसके चलते उनकी तरफ से पंजाब के ट्रैफिक एडवाइजर नवदीप असीजा को यह काम सौंपा है।
  • ट्रैफिक एडवाइजरी कमेटी ने 91 ब्लैक स्पॉट दुरुस्त करने के लिए लंबित काम को दी मंजूरी

हादसे घटाने के लिए राज्य सरकार के आदेश पर ट्रैफिक एडवाइजरी कमेटी ने 91 ब्लैक स्पॉट दुरुस्त करने के लिए सालों से लटक रहे काम को हरी झंडी दी है। इसके चलते नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) की तरफ से पहले चरण में 10 ब्लैक स्पॉट हटाए जाएंगे। एनएचएआई चेयरमैन सुखबीर सिंह संधू की ओर से सभी ब्लैक स्पॉट को व्हाइट स्पॉट बनाने के लिए अंबाला में प्रोजेक्ट इम्प्लीमेंटेशन यूनिट को आदेश दिए गए। इसके चलते उनकी तरफ से पंजाब के ट्रैफिक एडवाइजर नवदीप असीजा को यह काम सौंपा है।

वीरवार को एडवाइजरी टीम के मेंबरों ने शहर पहुंच एसीपी ट्रैफिक गुरदेव सिंह के साथ 10 स्पॉट का निरीक्षण किया। जानकारी के मुताबिक शहर में लगातार हो रहे हादसों को देखकर राज्य सरकार की तरफ से इस पर स्टडी करवाई। इससे पता चला कि 91 ब्लैक स्पॉट ऐसे है, जहां पर गलत इंजीनयिरिंग और अन्य कारणों से लगातार मौतें हो रही हैं। मगर उसके बाद इन्हें दुरुस्त करने का काम अधर में लटका रहा, लेकिन अब दोबारा इसका काम शुरू किया गया है। इन 10 स्पॉट को दुरुस्त कर बाकी 81 पॉइंट भी सुधारे जाएंगे।

एसीपी गुरदेव सिंह ने टॉप-10 ब्लैक स्पॉट ऑफ लुधियाना कमिश्नरेट के नाम से तैयार की बुक जुलाई 2020 में लांच की। इसमें सबसे ज्यादा हादसों वाले 10 पॉइंट्स को चयनित कर उनकी स्टडी कर वहां हादसों के कारण बताए। एनएचएआई चेयरमैन सुखबीर सिंह संधू के दौरे के दौरान उन्हें यह बुक दी गई। इस पर चेयरमैन ने इन 10 पॉइंट्स का खुद मौके पर जाकर निरीक्षण किया। इससे गलत तरीके से सड़क बनाने, ट्रैफिक लाइटें, स्ट्रीट लाइटें न होने, गलत कट, यू-टर्न जैसे कारण सामने आए। इसके बाद इस पर काम शुरू कराया गया है।

पहले चरण के तहत इन जगहों पर होगा काम

एडवाइजरी कमेटी ने इन पॉइंटों की ड्राइंग तैयार की है, लेकिन इसमें ट्रैफिक पुलिस ने कई बदलाव करवाए हैं। इन जगहों पर स्ट्रीट लाइटें, जरूरत मुताबिक बस स्टॉप, रोड साइन, चौक, कट, फुटपाथ, ट्रैफिक लाइटें समेत अन्य जरूरत की चीजें लगाई जाएंगी। जबकि इन्हें इस तरह तैयार किया जाएगा कि मुख्य हाईवे के साथ जोड़ा जा सके। जून में इसका टेंडर लगाकर काम किया जाएगा। जबकि गलत और अवैध कट बंद किए जाएंगे।

  • साहनेवाल चौक
  • ईस्टमैन चौक
  • समराला चौक
  • कैलाश नगर कट
  • जालंधर बाईपास चौक
  • जीएमसी स्कूल कट प्रमुख रूप से शामिल है।

शहर के सबसे ज्यादा हादसों वाले 10 ब्लैक स्पॉट पर हादसों के कारण और उन्हें सही करने के सुझाव पर किताब तैयार की गई थी। इसी के आधार पर नेशनल हाईवे की ओर से काम शुरू किया गया है। अगले माह इसका टेंडर पास किया जाएगा। ट्रैफिक पुलिस और एडवाइजरी कमेटी के साथ मिलकर निरीक्षण किया जा रहा है।

-गुरदेव सिंह, एसीपी ट्रैफिक

खबरें और भी हैं...