लुधियाना में नेपाली नौकर ने चुराए 15 लाख:दुगरी में व्यापारी से घर में अंजाम दी वारदात; ढाई साल पहले रखा था नौकरी पर, समझते थे विश्वासपात्र

लुधियाना7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब में लुधियाना शहर के भाई नणधीर सिंह नगर (BRS) नगर के बाद अब दुगरी फेस 1 में नेपाली नौकर ने कारोबारी के घर से 15 लाख की नगदी उड़ा दी। कारोबारी ने उसे ढाई साल पहले नौकरी पर रखा था। परिवार के सदस्य नौकर को पुराना होने के कारण विश्वासपात्र समझते थे, इसलिए अकेले ही घर छोड़कर चले गए थे, लेकिन उसने धोखा दिया और चोरी की वारदात अंजाम दी। थाना दुगरी पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

पुलिस ने दुगरी अर्बन इस्टेट फेस-1 निवासी कारोबारी कंवलजीत सिंह की शिकायत पर उसके खिलाफ केस दर्ज किया। वह हौजरी फैक्टरी चलाते हैं। उनकी तरफ से घर में खाना बनाने के लिए ढाई साल पहले नौकर को काम पर रखा गया था, जो मूल रूप से नेपाली है और उसका उसका जन्म व पालन पोषण लुधियाना में ही हुआ। कंवलजीत सिंह के अनुसार, वह पत्नी के साथ घर से बाहर गए हुए थे। नौकर ने उनकी गैर मौजूदगी में अलमारी की कुंडी तोड़ कर उसमें रखी 15 लाख रुपए की नगदी चुरा ली और फरार हो गया।

नेपाली नौकर की पत्नी निर्मल नगर में किसी घर में नौकरी करती है और वहीं पर वह कमरा लेकर रह रहे थे। थाना दुगरी प्रभारी इंस्पेक्टर राजन पाल के अनुसार, नेपाली नौकर संबंधी उन्हें कई सुराग मिले हैं और उसे जल्द काबू कर लिया जाएगा।

दो दिन पहले भी हुई बीआरएस नगर में चोरी

19 जनवरी को भी नेपाली नौकर ने बीआरएस नगर में घर के मालिक को खाने में नशीली दवा देकर बेहोश कर दिया था। वहां से लाखों की नगदी और सोने के जेवरात लेकर फरार हो गया था। पुलिस ने आपराधिक मामला दर्ज किया हुआ है और नौकरों की तलाश की जा रही है।

चोरी के बाद नेपाल भाग जाते हैं नौकर

नेपाली नौकरों द्वारा चोरी की वारदात को अंजाम देने की घटनाएं पिछले काफी समय से हो रही हैं। पुलिस के लिए समस्या इस बात की है कि यह लोग चोरी की वारदात को अंजाम देकर नेपाल पहुंच जाते हैं और वहां से लाने के लिए गृह विभाग से मंजूरी लेनी पड़ती है। जिस कारण पुलिस इन तक नहीं पहुंच पाती है। पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर के अनुसार, हम बार बार आवेदन कर रहे हैं कि नौकरों को काम पर रखने से पहले उनकी पुलिस वेरिफिकेशन जरूर करवा लें।