लुधियाना में कोरोना बम फूटा:14 हेल्थ केयर वर्कर्स समेत 152 लोग मिले पॉजिटिव, बरनाला के संक्रमित व्यक्ति ने तोड़ा दम

लुधियाना7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब के लुधियाना जिला में मंगलवार को कोरोना ब्लास्ट हुआ। जिला में 152 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें से 103 जिला लुधियाना से संबंधित हैं और बाकी दूसरे जिलों या स्टेट से संबंधित हैं। नए मामलों में डीएमसी के मलकपुर नर्सिंग कॉलेज की 41 स्टूडेंट भी शामिल हैं। इसी के साथ मंगलवार को बरनाला के एक व्यक्ति की मौत हुई, जो सीएमसी में दाखिल था।

लगातार चौथे दिन मरीजों की संख्या बढ़ी है। पॉजिटिव मरीजों के संपर्क में आए लोगों की संख्या 7, ओपीडी से 15, फ्लू कार्नर से 47, हेल्थ केयर वर्कर 14 पॉजिटिव पाए गए हैं। इसके साथ ही प्रशासन की तरफ से जिले में पाबंदियां भी लगा दी गई हैं। अब अगर आप किसी भी सरकारी कार्यालय में काम करवाने के लिए जा रहे हैं तो बिना मास्क के कोई भी सरकारी काम नहीं होगा। इसके अलावा शहर में आठ माइक्रो कंटेनमेंट जोन भी बना दिए गए हैं।

शहर में बनाए गए 8 माइक्रो कंटेनमेंट जोन

सेहत विभाग की तरफ से शहर में 8 माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। यह वह एरिया हैं यहां पर 5 या 5 से ज्यादा मरीज मिले हैं। शहर में न्यू प्रेम नगर, बाबा थान सिंह चौक, बसंत विहार, माया नगर, सिविल लाइन, पख्खोवाल रोड, मधपुर, सिधवाबेट, अगर नगर को माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। यहां पर पुलिस का पहरा रहेगा। यहां पर राशन, सब्जी और अन्य सामान प्रशासन की तरफ से पहुंचाया जाएगा।

डीसी ने लाइव होकर की अपील, अपना ध्यान रखें

डिप्टी कमिश्नर वरिंदर शर्मा ने जिला प्रशासन के पेज से लाइव होकर जानकारी दी है कि आज रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा। उनकी तरफ से यह भी कहा गया है कि अब शहर में हर सरकारी और गैर सरकारी कार्यालय में मुंह पर मास्क लगाकर रखना होगा।

सिविल अस्पताल में वेक्सीन लगवाने आए मजदूरों की भीड।
सिविल अस्पताल में वेक्सीन लगवाने आए मजदूरों की भीड।

सिविल अस्पताल में वैक्सीनेशन को लेकर लगी लंबी लाइनें

कोरोना को लेकर शहर के व्यापारी बुरी तरह से डरे हुए हैं। इसी कारण सभी ने आदेश जारी कर दिए हैं कि बिना वैक्सीनेशन वाले लोगों को फैक्ट्री में आने की इजाजत नहीं दी जाएगी। इसके बाद से वैक्सीनेशन साइट्स पर वैक्सीन लगाने के लिए लोगों की संख्या लगातार बढ़ने लगी है। आज सिविल अस्पताल में सैकड़ों मजदूर वैक्सीन लगाने के लिए आए हुए थे। यहां पर लोग सुबह साढ़े पांच बजे ही आने लगे थे।