बठिंडा में एक ही परिवार के 7 लोग कोरोना संक्रमित:जिले में एक महीने बाद इतनी संख्या में नए केस मिले, कैंट एरिया में मचा हड़कंप; सेहत विभाग ने जारी किया अलर्ट

लुधियाना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

लंबे अंतराल के बाद बठिंडा शहर से एक ही परिवार के 7 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। यह मरीज कैंट एरिया से मिले हैं और इसके बाद इलाके में हड़कंप मचा हुआ है। जिले में करीबन एक माह बाद एक साथ इतनी संख्या में कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए हैं। इसके बाद सेहत विभाग की टीमों ने लोगों को सावधान रहने और कोरोना से बचाव के लिए नियमों का पालन करने की हिदायत दी है। सभी मरीजों की हालत स्थिर बताई जा रही है हैं। यहां से पहले भी लगातार एक या दो मरीज मिल रहे थे। ऐसे में सेहत विभाग की टीमें संदिग्ध इलाकों पर लगातार नजर बनाए हुए है।

सेहत विभाग के अधिकारियों के अनुसार 4 सितंबर को 22 टेस्ट लिए गए थे। इनमें से 7 पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें एक 11 वर्षीय बच्ची, 3 महिलाएं और 3 पुरुष शामिल हैं। यह सभी एक ही परिवार के बताए जा रहे हैं। सेहत विभाग के अनुसार सभी की हालत स्थिर है और उन्हें क्वारंटाइन कर दिया गया है।

कोरोना का खतरा अभी टला नहींः सिविल सर्जन

सिविल सर्जन डाॅ तेजवंत सिंह ढिल्लों का कहना है कि हमारी तरफ से एरिया में सैंपलिंग बढ़ाई गई हैं। इसी एरिया के पिछले कुछ दिनों से लगातार एक से दो मरीज मिल रहे थे। इसी वजह से वहां पर हमारी टीमें पहले से भी ज्यादा सक्रियता से काम कर रही हैं। उन्होंने लोगों से अपील की है कि अभी कोरोना का खतरा टला नहीं है। वैक्सीन लगाने का काम चल रहा है। मगर फिर भी लोगों को कोरोना प्रोटोकॉल का पालन रखते हुए मास्क पहनना चाहिए और दो गज की दूरी की पालना करनी चाहिए।

अभी 50 फीसदी को लगी है वैक्सीन

जिले में साढे 10 लाख आबादी को वैक्सीन लगाने का टारगेट रखा गया था। अब तक 7 माह में साढ़े पांच लाख लोगों को ही वैक्सीन लगी है। चिंता की बात यह है कि अभी 50 फीसदी लोगों को ही वैक्सीन लग सकी है। अगर कोरोना की तीसरी लहर आती है, तो इसका असर आम लोगों पर ज्यादा देखने को मिलेगा। इसलिए प्रशासन को वैक्सीन लगाने की रफ्तार बढ़ाने होगी। साथ ही आम लोगों को कोरोना के नियमों का पालन करना होगा।

खबरें और भी हैं...