पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

फर्जी आईडी प्रूफ बनाने का मामला:फेविकोल पर फिंगर प्रिंट्स ले उसी से बनाते थे आधार कार्ड

लुधियाना20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कोहाड़ा में फर्जी आधार कार्ड बनाने वाले गैंग की पूछताछ के बाद पुलिस को कई और अहम खुलासे हो रहे हैं। जिसमें आरोपियों द्वारा फर्जी आधार कार्ड बनाने की टेक्नीक तक बताई। यही नहीं, उन्हें आईडी कैसे मिली, इसका भी खुलासा भी कर दिया। फिलहाल आरोपी जोरा सिंह और गुरसेवक सिंह से पूछताछ की जा रही है। पुलिस को आरोपियों के पास से फेविकोल पर फिंगरप्रिंट्स मिले हैं। आरोपी प्रवासियों से धोखे से फिंगरप्रिंट्स ले

लेते थे और फिर उनके प्रिंट्स का इस्तेमाल किसी दूसरे का फर्जी कार्ड बनाने के लिए करते थे। क्योंकि आधार कार्ड बनाने के लिए थम रिएक्शन की जरूरत होती थी। इसी तरह से आईस्कैनर से किसी की भी आईस्कैनिंग कर देते थे, बदले में उन्हें कुछ पैसे दे देते थे। पड़ताल में ये भी सामने आया है कि पहले जो तीन आरोपी पुलिस ने पकड़े थे, उन्हीं ने 25 हजार में ये आईडी हैक कर इन्हें बेची थी। जिसका इस्तेमाल कर आरोपी फर्जी आधार कार्ड तैयार कर रहे थे। गौर हो कि दोनों आरोपियों द्वारा 100 से ज्यादा लोगों को फर्जी आईडी प्रूफ बनाकर दिए जा चुके हैं। उनसे 74 आधार कार्ड और 5 वोटर कार्ड बरामद हुए थे।

खबरें और भी हैं...