• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • Accident Potential Zone In Front Of Hardidge World; 17 Accidents In 6 Months, Three Lives Lost Due To Lack Of Street Lights Within Two Km Radius

दर्दनाक हादसा:हार्डिज वर्ल्ड के सामने दुर्घटना संभावित क्षेत्र; 6 माह में 17 हादसे, दो किमी के दायरे में स्ट्रीट लाइट न होने से ही गईं तीन जिंदगियां

लुधियाना9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अरुण की पत्नी पर टूटा दुखों का पहाड़। - Dainik Bhaskar
अरुण की पत्नी पर टूटा दुखों का पहाड़।
  • लुधियाना-जालंधर हाईवे पर हार्डिज वर्ल्ड के सामने कार को धक्का दे रहे तीन दोस्तों को पीछे से आ रहे ट्राले ने कुचल डाला
  • हादसे में मरने वाले तीनों दोस्तों पर थी अपने-अपने परिवार की जिम्मेदारी

लाडोवाल के नजदीक हार्डिज वर्ल्ड के सामने शुक्रवार देर रात गाड़ी में पेट्रोल खत्म होने पर धक्का लगाकर ले जा रहे तीन दोस्तों को तेज रफ्तार ट्राले ने रौंद दिया। घटना के बाद आरोपी ट्राला चालक फरार हो गया। हादसे में ऋषि नगर निवासी संजीव कुमार (35), अरूण कुमार (23) और कृष्ण कुमार उर्फ गोविंद (24) की मौत हो गई।

बीते दिनों इसके आसपास ही बाइक सवार दो दोस्तों को वाहन ने टक्कर मार दी थी जिसके चलते पुल से नीचे गिरे बाइक सवार इंजीनियर की मौत हो गई थी। हालात देखिए कि दुर्घटना संभावित क्षेत्र होने की वजह से दो किलोमीटर के दायरे में पिछले 6 महीने में 17 सड़क हादसे हो चुके हैं, जिसमें अब तक 6 लोगों की जान जा चुकी है और 14 के करीब लोग जख्मी हो चुके हैं। इसके बावजूद यहां स्ट्रीट लाइट का प्रबंध नहीं किया है। इतना ही नहीं दुर्घटना संभावित क्षेत्र का बोर्ड भी नहीं लगाया गया है और न ही ट्रैफिक टूल्स लगाकर हादसे को रोकने का प्रयास किया जा रहा है।

अरुण की छह माह पहले हुई थी शादी

अरुण के परिवार को देखने के बाद लगा कि उनकी सारी दुनिया ही उजड़ गई। वो ऋषि नगर के एक होटल में नौकरी करता था। घर में पिता, भाई और पत्नी है। उसकी शादी 6 महीने पहले ही हुई थी। अभी उसकी नई जिंदगी की शुरुआत ही हुई थी कि उस पर दुखों का पहाड़ टूट गया।

संजीव के हैं 10 और 8 साल के दो बच्चे
संजीव ऋषि नगर में नंबर प्लेट बनाने और कूड़े के डंप पर काम करता था। घर पर उसके माता-पिता, पत्नी अनु और दो बच्चे जिया(10) और जश्न(8) हैं। परिवार की जिम्मेदारी उसी के कंधों पर थी।

गोविंद की शादी के बारे सोच रहा था परिवार
गोविंद पेंटर का काम करता था। परिवार में उसके दो भाई और माता-पिता हैं। उसकी शादी नहीं हुई थी, फिलहाल परिवार उसकी शादी के बारे में सोच रहा था। लेकिन उन्हें क्या पता था कि जिस बेटे को वो जान से ज्यादा प्यार करते हैं, वो दोबारा घर वापस नहीं आएगा।

खबरें और भी हैं...