• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • Apart From Uploading Anti Virus In Mobile, Keep Parental Control, Safety Feature On. Also Set Online Game Purchase Limit

सावधानी-सुरक्षा जरूरी:मोबाइल में एंटी वायरस अपलोड करने के अलावा पेरेंटल कंट्रोल, सेफ्टी फीचर जरूर ऑन रखें; ऑनलाइन गेम खरीदारी की लिमिट भी तय करें

लुधियाना11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • अब ऑनलाइन गेमिंग के नुकसान को लेकर सीबीएसई करेगा स्टूडेंट्स के पेरेंट्स को जागरूक, हिदायतें जारी

कोविड-19 के दौर में बच्चों के घरों में रहने के कारण मोबाइल, लैपटॉप या पीसी पर गेम्स खेलने की आदत में तेजी से इजाफा हुआ है। एक तरफ जहां स्टूडेंट्स को ऑनलाइन क्लासों में हिस्सा लेना था। साथ ही उनका ध्यान ऑनलाइन खेलों पर भी रहा है। ऑनलाइन गेम्स खेलने में रुचि बढ़ने से स्टूडेंट्स पढ़ाई पर भी कम ध्यान दे रहे हैं। वहीं, सेहत को लेकर भी उन्हें कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

इसे देखते हुए सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन की तरफ से सभी मान्यता प्राप्त स्कूलों को ऑनलाइन गेमिंग के नुकसान के बारे में स्टूडेंट्स के साथ ही पेरेंट्स को भी जागरूक करना होगा। बोर्ड ने इसके लिए विस्तार से हिदायतें जारी की हैं। इसमें पेरेंट्स को बताया जाएगा कि किस तरह से स्टूडेंट्स की गतिविधि को रोक सकते हैं। इसके लिए उन्हें क्या कदम उठाने चाहिए और क्या नहीं।

पेरेंट्स को सुझाव ओटीपी आधारित पेमेंट का ही विकल्प रखें, गेम डाउनलोड करते समय पर्सनल जानकारी न करें शेयर

बोर्ड ने बिना पेरेंट्स की अनुमति के एप्लीकेशन से खरीदारी न करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। साथ ही पेमेंट के लिए ओटीपी आधारित विकल्प ही रखने के लिए कहा गया है। क्रेडिट-डेबिट कार्ड पर खरीद की ऊपरी लिमिट तय करने, स्टूडेंट्स को बेवजह के लिंक्स न क्लिक करने, ऑनलाइन गेम डाउनलोड करने के लिए किसी भी तरह की पर्सनल जानकारी साझी न करने, अनजाने लोगों से ऑनलाइन बात न करने, पर्सनल जानकारी गेम खेलने वालों के साथ साझी न करने के लिए बताया जाएगा।

पेरेंट्स को इन बातों का रखना होगा खास ख्याल

  • अगर ऑनलाइन खेल खेलते हुए कुछ समस्या होती है तो तुरंत स्क्रीनशॉट लें।
  • बच्चों की प्राइवेसी को बनाए रखने के लिए असली नाम न बताएं।
  • एंटी वायरस अपलोड करने के अलावा पेरेंटल कंट्रोल और सेफ्टी फीचर जरूर ऑन करके रखें।
  • ऑनलाइन गेम खरीदारी की लिमिट तय कर रखें।
  • बच्चा जो भी गेम खेल रहा है, उसकी आयु की रेटिंग जरूर चेक करें।
  • बच्चे के साथ खुद भी खेल सकते हैं, ताकि जानकारी हो कि बच्चा ऑनलाइन कैसे बात कर रहा है।
  • उन्हें ये जरूर बताएं कि ऑनलाइन गेम ज्यादा खेलने और खर्चा करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।
  • हमेशा ये सुनिश्चित करें कि बच्चा परिवार के सामने ही इंटरनेट का इस्तेमाल करें।
  • बच्चों के व्यवहार पर खास ध्यान रखें।
  • साथ ही टीचर्स भी स्टूडेंट्स को इंटरनेट के फायदे-नुकसान के बारे में बताते रहें।
खबरें और भी हैं...