रेप का विरोध करने पर छत से फैंका:मोगा में लड़की का जबड़ा और पांव टूटे; 3 युवकों ने पिटाई भी की; बहलाकर ले गया था युवक

लुधियानाएक महीने पहले

पंजाब के मोगा शहर में स्टेडियम में खेलने गई छात्रा से दुष्कर्म की कोशिश और मारपीट का मामला सामने आया है। 3 युवकों ने छात्रा का मोबाइल छीनने की कोशिश की। छात्रा ने विरोध किया तो उन्होंने उससे मारपीट करनी शुरू कर दी। आरोपियों ने छात्रा से जबरदस्ती भी की, लेकिन उसने युवकों का मुकाबला किया।

आरोपियों ने छात्रा से मारपीट करते हुए उसे छत से धक्का देकर नीचे गिरा दिया। इससे वह बुरी तरह घायल हो गई। छात्रा की हालत गंभीर बनी हुई है। वह लुधियाना के DMC अस्पताल में दाखिल है। डॉक्टरों के मुताबिक, अभी छात्रा बोल नहीं सकती। बताया जा रहा है कि उसके दोनों पांव टूट गए हैं। उसका जबड़ा भी टूट चुका है।

छात्रा के पिता ने बताया कि उनकी बेटी 12वीं कक्षा की छात्रा है। वह ट्यूशन पढ़ कर वापस घर आई थी। इसके बाद वह घर के पास बने स्टेडियम में खेलने चली गई। वहां उसकी पहचान का एक युवक था, जो उसे बातों में लगाकर स्टेडियम की छत पर ले गया। छत पर पहले से दो युवक बैठे थे।

तीनों बदमाशों ने उसका मोबाइल छीनने की कोशिश की। विरोध किया तो आरोपियों ने बेटी से मारपीट करनी शुरू कर दी। तीनों युवकों के संग वह अकेली लड़ती रही। इतने में एक युवक ने मौका देखकर उसे स्टेडियम की छत से धक्का दे दिया। अन्य खिलाड़ियों ने उसे देखकर परिजनों और एंबुलेंस को फोन किया।

वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए थे। थाना सिटी मोगा के प्रभारी दलजीत सिंह ने बताया कि जैसे ही घटना का पता चला, पुलिस मौके पर पहुंची। घायल को लुधियाना के DMC अस्पताल पहुंचाया गया। छात्रा अभी बयान देने की हालत में नहीं है। जैसे ही बच्ची की हालत थोड़ी सही होती है, बयान दर्ज करके आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार कर लिया जाएगा।