पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

10 साल का टूटा रिकॉर्ड:मई में औसतन अधिकतम पारा 40 डिग्री से रहा नीचे, मौसम में बदलाव

लुधियाना18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रविवार को अधिकतम तापमान सिटी में 37 डिग्री के करीब ही रिकॉर्ड किया गया है - Dainik Bhaskar
रविवार को अधिकतम तापमान सिटी में 37 डिग्री के करीब ही रिकॉर्ड किया गया है
  • 20 मई के बाद पड़ती है भीषण गर्मी पर इस बार हुआ

मई के मौसम में पिछले 10 सालों में पहली बार देखने को मिल रहा है कि इस बार मई में अधिकतम तापमान दो बार ही 42 डिग्री तक गया। मई में औसतन अधिकतम तापमान 40 डिग्री से नीचे ही रिकॉर्ड किया गया है।

अगर पिछले 10 सालों की बात करें तो मई में लू और भीषण गर्मी से 20 मई के बाद बुरा हाल होने लग जाता है। लेकिन इस बार मई में पिछले 10 सालों के मुकाबले में बड़े स्तर पर बदलाव देखने को मिला है। रविवार को अधिकतम तापमान सिटी में 37 डिग्री के करीब ही रिकॉर्ड किया गया है जबकि ऐसा पिछले 10 सालों में कभी भी देखने को नहीं मिला है।

आगे क्या: 2 जून के बाद गर्मी बढ़ने के आसार

वहीं न्यूनतम तापमान की बात करें तो वह भी अधिकतम की जगह 2 डिग्री की गिरावट लेते हुए 20 डिग्री पर ही आया जिससे दिन और रात में गर्मी से राहत मिली। पीएयू मौसम विशेषज्ञ डॉक्टर केके गिल के अनुसार इस बदले हुए मौसम के पीछे कारण यही है कि इस बार समय से पहले लगातार वेस्टर्न डिस्टरबेंस आए हैं जबकि ज्यादातर हवाएं भी पूर्वी ही चली है।

इसके चलते हवा में नमी की मात्रा ज्यादा बढ़ने से अधिकतम तापमान नहीं बढ़ पाया। सिटी में रविवार को अधिकतम पारा 37.2 डिग्री रिकॉर्ड हुआ जबकि न्यूनतम तापमान 20 डिग्री के करीब ही रिकॉर्ड किया गया।

ऐसे में अधिकतम तापमान में सामान्य के मुकाबले 3 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है जबकि न्यूनतम तापमान में सामान्य के मुकाबले 2 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है। मौसम विभाग के अनुसार सोमवार को भी इसी तरह हवाएं चलेंगे जबकि अधिकतम तापमान ज्यादा बढ़ोतरी नहीं होगी। जबकि 2 जून के बाद फिर से गर्मी बढ़ने के आसार हैं।

इस साल मई में एक दिन 420 रहा तापमान

इंडियन मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट की तरफ से मिली जानकारी के अनुसार पिछले 10 सालों के रिकॉर्ड की बात करें तो मई के आखिरी सप्ताह में अधिकतम तापमान 44 डिग्री से कभी नीचे दर्ज हुआ ही नहीं है। लेकिन इस बार 10 सालों का रिकॉर्ड टूटा है सिर्फ 1 दिन ही 42 डिग्री तापमान रिकॉर्ड हुआ जबकि उसके बाद मौसम में बदलाव आने के चलते ये 40 डिग्री से नीचे आ गया है।

10 सालों का रिकॉर्ड 19 से लेकर 31 मई तक का है

2011 43.7 2012 45.7 2013 46.5 2014 43.5 2015 44.5 2016 44.6 2017 44.0 2018 44.6 2019 44.5 2020 44.2

खबरें और भी हैं...