लुधियाना में मकान मालिकों पर केस दर्ज:किराएदारों की वेरिफिकेशन नहीं कराई; 20 पर हुई कार्रवाई; पुलिस ने अपनाया सख्त रवैया

लुधियाना4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस कमिश्नर कौस्तुभ शर्मा। - Dainik Bhaskar
पुलिस कमिश्नर कौस्तुभ शर्मा।

पंजाब के लुधियाना जिले में बढ़ रहे अपराध के ग्राफ को रोकने के लिए पुलिस एक्शन मोड में नजर आ रही है। पुलिस कमिश्नर कौस्तुभ शर्मा के निर्देश पर किराएदारों की वेरिफिकेशन न करवाने वाले लोगों के खिलाफ मामला दर्ज होने शुरू हो गए हैं। लगातार पुलिस मकान मालिकों पर FIR दर्ज कर रही है। इस मामले को पुलिस बेहद गंभीरता से ले रही है।

गुरुवार को लुधियाना पुलिस ने करीब 20 मकान मालिकों पर किराएदारों की वेरिफिकेशन न करवाने पर मामला दर्ज किया। इस अभियान को ADCP IPS सुहैल कासिम मीर लीड कर रहे हैं। पुलिस के मुताबिक, आजादी दिवस को लेकर लगातार शहर के चप्पे-चप्पे पर चैकिंग और वेरिफिकेशन जैसे अभियान चलाए जा रहे हैं।

पुलिस होटलों और गेस्ट रूम आदि में रोजाना औचक निरीक्षण कर रही है। पुलिस कमिश्नर कौस्तुभ शर्मा ने कहा कि शहर निवासियों के लिए बेहद जरूरी है कि जिन लोगों को किराए पर कमरे दिए हैं, उनकी वेरिफिकेशन जरूर करवाएं। पुलिस ने मकान मालिकों के खिलाफ अलग-अलग थानों में IPC की धारा 188 के तहत मामला दर्ज किया है।

दुगरी पुलिस ने न्यू शाम नगर के अर्जुन, डेहलों पुलिस ने गांव रानिया के दविंदर सिंह, गांव आलमगीर के मोहन सिंह के खिलाफ किराएदारों की वेरिफिकेशन न करवाने के चलते मामला दर्ज किया है। साहनेवाल पुलिस में धारा 188 के तहत 4 अलग-अलग मामले दर्ज किए हैं। बलवीर सिंह, गुरदीप सिंह, हरवीर सिंह और शेर सिंह खिलाफ केस दर्ज हुआ है।

थाना डिविजन नंबर 6 की पुलिस ने भी ढोलेवाल के सुखदेव सिंह, हरदीप सिंह, मिल्लरगंज के हरविंदर सिंह और हरगोबिंद नगर के हृदय नारायण के खिलाफ मामला दर्ज किया है। ADCP IPS सुहैल कासिम मीर ने कई बार शहरवासियों से अपने किरायेदारों, घरेलू सहायिकाओं और कर्मचारियों की वेरिफिकेशन करवाने की अपील की, लेकिन लोगों ने आवेदन नहीं किया।

उन्होंने कहा कि आपराधिक तत्व दूसरे राज्यों में अपराध को अंजाम देने के बाद शहर में छिप जाते हैं। घरेलू सहायिका अपने मालिकों के घर डकैती को अंजाम देकर फरार हो जाती हैं। ऐसे में पुलिस को आरोपियों का पता लगाने में दिक्कत होती है। लोगों को पुलिस के काम में मदद करनी चाहिए और जो बाहरी लोग किराए पर आकर रहते हैं, उनकी वेरिफिकेशन करवानी चाहिए।

खबरें और भी हैं...