लुधियाना ब्लास्ट मामला::कोर्ट कॉम्प्लेक्स धमाके में NIA ने अलग से दर्ज की FIR, पंजाब पुलिस के दो बर्खास्त सिपाही मुलतानी-गगनदीप का नाम शामिल

लुधियाना13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) ने लुधियाना कोर्ट कॉम्प्लेक्स ब्लास्ट की जांच पंजाब पुलिस से अलग शुरू कर दी है। NIA ने इसके लिए नई FIR दर्ज की है। FIR में पंजाब पुलिस के बर्खास्त सिपाही गगनदीप और जसविंदर सिंह मुलतानी को नामजद किया गया है।

लुधियाना कोर्ट कॉम्प्लेक्स में हुए ब्लास्ट की जांच अभी तक NIA पंजाब पुलिस के साथ मिलकर कर रही थी। पुलिस ब्लास्ट में मारे गए गगनदीप सिंह के जर्मनी में बैठे आतंकी जसविंदर सिंह मुलतानी से संपर्क तलाश रही है। पुलिस ने जसविंदर सिंह मुलतानी के खिलाफ आपराधिक मामला भी दर्ज किया था।

23 दिसंबर को हुआ था विस्फोट

लुधियाना जिला अदालत में 23 दिसंबर 2021 को दूसरी मंजिल पर शौचालय में दोपहर के समय ब्लास्ट हुआ था। ब्लास्ट में 6 लोग घायल हुए थे, और गगनदीप सिंह नामक पंजाब पुलिस के बर्खास्त सिपाही की मौत हो गई थी। गगनदीप सिंह खन्ना में पुलिस स्टेशन का मुंशी रह चुका था और उसके खिलाफ 2019 में नशा तस्करी का मामला दर्ज किया गया था। गगनदीप कुछ समय पहले ही अदालत से जमानत पर आया था।

पाक एजेंसी की शह पर आतंकी कार्रवाई के आरोप

जसविंदर सिंह मुलतानी पर आरोप है कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI की शह पर दिल्ली और मुंबई में आतंकी हमलों की तैयारी में था। लुधियाना ब्लास्ट में भी उसका लिंक सामने आया था। मुलतानी को पिछले महीने जर्मनी में हिरासत में लिया गया, पूछताछ के बाद उसे छोड़ दिया गया। एनआईए ने कहा था कि लुधियाना ब्लास्ट में मुलतानी के अलावा बब्बर खालसा के पाकिस्तान में बैठे आतंकी हरविंदर सिंह संधू का हाथ है। पाकिस्तान से ड्रोन के जरिये हथियार और ग्रेनेड आने के मामले में भी मुल्तानी की मुख्य भूमिका है। गैंगस्टरों और नशा तस्करों के साथ मिलकर पंजाब में अशांति फैलाने की प्लानिंग कर रहा है। उसका संबंध खालिस्तान समर्थक आतंकियों हरदीप सिंह निज्जर, परमजीत सिंह पम्मा, साबी सिंह और कुलवंत सिंह से भी है।

खबरें और भी हैं...