पंजाब के CM चन्नी का भांगड़ा:PTU में स्टेज पर युवाओं के साथ किया धमाल, भीम राव अंबेडकर म्यूजियम की रखी नींव; इस बार सिद्धू नहीं रहे साथ

लुधियाना9 महीने पहले

पंजाब टेक्निकल यूनिवर्सिटी (PTU) कपूरथला में मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का एक नया रूप देखने को मिला। यहां उनके स्वागत में रंगारंग कार्यक्रम किया गया। जैसे ही भांगड़ा करने के लिए युवा स्टेज पर आए तो चन्नी खुद को नहीं रोक पाए और स्टेज पर स्टूडेंट्स के साथ पंजाब का लोक नृत्य भांगड़ा करते हुए लुड्डी और धमाल करते नजर आए। इसके बाद चरणजीत सिंह ने सभी युवाओं को गले लगाया। उन्होंने स्टूडेंट्स के साथ फोटो भी खिचवाई है। मुख्यमंत्री यहां प्रदेश स्तरीय रोजगार मेले के उद्घाटन समारोह में शामिल होने आए थे। उन्होंने यहां भीम राव अंबेडकर म्यूजियम की भी नींव रखी। इस दौरान उन्होंने संबोधन में स्टूडेंट्स को कड़ी मेहनत करने की सीख दी।

भांगड़ा टीम के साथ फोटो खिचवाते हुए चरणजीत सिंह चन्नी।
भांगड़ा टीम के साथ फोटो खिचवाते हुए चरणजीत सिंह चन्नी।

CM ने कम की अपनी सिक्योरिटी
मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने अपनी सिक्योरिटी में कमी कर दी है। अपने भाषण के दौरान उन्होंने कहा कि जब उनकी ओर से सिक्योरिटी कम की तो CID ने सुरक्षा का हवाला दिया था और उन्होंने कहा कि इसके लिए वह खुद जिम्मेदार हैं। उन्होंने छात्रों से कहा आगे बढ़ने के लिए निष्ठा की जरूरत है। उन्होंने कहा कि हमेशा पढ़ते रहना जरूरी है। इसी से तरक्की मिलती है। चन्नी ने बताया कि एक समय ऐसा था कि एक बार टिकट बांटने की मीटिंग थी और उसी दिन मेरी परीक्षा थी। राहुल गांधी ने उन्हें अपना जहाज दिया और वह परीक्षा देकर वापस लौटे। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार की तरफ से हम बहुत से युवाओं को नौकरी दी है और एक लाख और नौकरियां मुहैया करवाने की कोशिश करने जा रहे हैं। IIM के साथ मिलकर बाबा भीमराव अंबेडकर के नाम पर इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट कॉलेज बनाया जाएगा।

नवजोत सिद्धू की गैरहाजिरी, कई सांसद और विधायक रहे हाजिर
आज चरणजीत सिंह चन्नी के साथ नवजोत सिंह सिद्धू नहीं थे। मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार था कि सिद्धू उनके साथ प्रोग्राम में नहीं थे। आज उनके साथ सांसद जसवीर सिंह डिंपा, राणा गुरजीत सिंह, मुहम्मद सद्दीक, चौधरी संतोख सिंह, राज कुमार वेरका आदि मौजूद रहे। इस दौरान राणा गुरजीत सोढी ने मेडिकल कॉलेज बनाने की मांग शुरू की थी, जिसे मुख्यमंत्री ने तुरंत मान लिया।

समागम को संबोधित करते CM चन्नी।
समागम को संबोधित करते CM चन्नी।

DAV यूनिवर्सिटी में छात्रों से मुलाकात के लिए हटा दी थी सिक्योरिटी
मुख्यमंत्री का पद संभालते ही चन्नी युवाओं के साथ खुलकर मुलाकात कर रहे हैं। इससे पहले मुख्यमंत्री ने बुधवार को जालंधर की डीएवी यूनिवर्सिटी में अपना अलग अंदाज दिखाया था। उन्होंने यहां छात्रों से मुलाकात करने के लिए अपनी सिक्योरिटी को हटा दिया। उन्होंने कहा कि उन्हें किसी तरह का खतरा नहीं है। उन्होंने खुद इशारा कर सिक्योरिटी को वहां से हटाया। इसके बाद उन्होंने छात्र-छात्राओं से हाथ मिलाया। मुख्यमंत्री की इस पहल को देख विद्यार्थियों में काफी जोश दिखा। हालांकि इस दौरान पुलिस को उनकी सिक्योरिटी बनाए रखने के लिए खूब मशक्कत करनी पड़ी।

खबरें और भी हैं...