पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जांच रिपोर्ट:अस्पताल स्टाफ को क्लीनचिट, गर्भवती को बिना बताए जाने के लिए ठहराया जिम्मेदार

लुधियाना2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सिविल अस्पताल के पार्क में 2 बच्चों को जन्म देने का मामला

सिविल अस्पताल के जच्चा-बच्चा वॉर्ड के बाहर पार्क में 2 बच्चों को जन्म देने के मामले में जांच पूरी हो गई है। रिपोर्ट जल्द ही आला अफसरों को भेजी जाएगी। सूत्रों के मुताबिक जांच रिपोर्ट में गर्भवती महिला की गलती बताई गई। इसमें लिखा है कि 8 महीने की गर्भवती महिला 17 फरवरी को खून की कमी और पीलिया के कारण सिविल अस्पताल में दाखिल हुई थी। 18 फरवरी दोपहर 2 बजे उसको सीएमसी से ईको करवाने के लिए कहा था। शाम 4 बजे वह अस्पताल स्टाफ को बिना बताए ईको करवाने पति के साथ वॉर्ड से बाहर निकली। इस दौरान अस्पताल के पार्क के पास जाते ही उसको दर्द होने लगा।

इस पर जब गर्भवती महिला का पति संतोष वॉर्ड से स्टाफ को बुलाने गया तो वहां स्टाफ एक अन्य महिला की डिलीवरी करवाने में व्यस्त था। इस कारण उनको बाहर आने में समय लग गया। इसी दौरान महिला ने बेटा-बेटी को अस्पताल के पार्क में जन्म दे दिया। एसएमओ अमरजीत कौर ने बताया कि मामले की रिपोर्ट जल्द ही आला अफसरों को भेजी जाएगी। सारी रिपोर्ट बयानों के आधार पर बनाई गई है। इसमें महिला ने खुद माना कि वह सिविल अस्पताल के स्टाफ को बताए बिना अस्पताल से बाहर गई थी। घटना के समय ड्यूटी कर रहे हर मुलाजिम के बयान लिए गए हैं।

ये है मामला : सिविल अस्पताल के जच्चा-बच्चा विभाग के बाहर 18 फरवरी को पार्क में महिला ने 2 बच्चों को जन्म दिया था। बच्चों का वजन और उनमें खून कम होने की वजह से उनको अस्पताल ने उसी दिन पीजीआई रेफर कर दिया। बच्चों का पिता अगले दिन पीजीआई से खुद ही छुट्टी लेकर बच्चों को लेकर वापस सिविल अस्पताल आ गया, जहां से डॉक्टरों ने दोबारा उसे सीएमसी भर्ती करवाया। 20 फरवरी को सीएमसी में बेटी ने दम तोड़ दिया था, जबकि बेटा सीएमसी में उपचाराधीन है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें