सुसाइड का मामला:एसीपी पर समझौते का दबाव बनाने की जॉइंट सीपी को शिकायत, आईओ बदला

लुधियाना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बुकियों से परेशान होकर युवक के सुसाइड करने का मामला

बुकियों से परेशान होकर सुसाइड करने वाले युवक के मामले में एसीपी के खिलाफ समझौते का दबाव बनाने पर पीड़ित पक्ष ने जॉइंट सीपी को शिकायत दी। इसके बाद तुरंत प्रभाव से केस को बदलकर एसीपी सेंट्रल को जांच के निर्देश दिए हैं। वहीं, मृतक कमलप्रीत सिंह के परिजनों ने चेतावनी दी कि अगर पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार न किया तो वो धरने प्रदर्शन करेंगे। पुलिस को दी शिकायत में तरनप्रीत सिंह ने आरोप लगाया कि पैसों के लेन-देन के चलते उनके भाई कमलप्रीत सिंह का आरोपी रूबल के साथ पैसों का लेन-देन था।

आरोपियों की धमकियों से परेशान होकर उनके भाई ने 11 अक्टूबर को आत्महत्या कर ली थी। मामले में थाना डिवीजन 3 में पर्चा दर्ज करवा दिया था, लेकिन आरोपियों ने जांच एसीपी इंडस्ट्री एरिया के पास लगवा ली। उनका आरोप था कि वो आरोपियों के जानकार थे। इसकी वजह से उनकी कोई सुनवाई किए बिना उनपर समझौते का दबाव बनाने लगे, लेकिन उन्होंने समझौता नहीं किया। अधिकारी पर्चा दर्ज होने के बाद अब उनके प्रूफ मांग रहें है कि क्या प्रूफ है कि आरोपियों से परेशान होकर कमल ने आत्महत्या की। जबकि उनके भाई के फोन में सारे प्रूफ मौजूद थे, जोकि पुलिस की ही हिरासत में है। उन्हें शक है कि उनपर कोई झूठा केस न बना दे। पुलिस उनके भाई की मौत के जिम्मेदार आरोपियों को गिरफ्तार करने की बजाय उन्हें डरा रहे हैं। लिहाजा उनकी शिकायत पर किसी आईपीएस अधिकारी से जांच करवाई जाए। शिकायत उन्होंने जॉइंट सीपी हेडक्वार्टर हरीश दयामा को दी। उन्होंने जांच एसीपी सेंट्रल को सौंपी है, जोकि अपनी रिपोर्ट पेश करेंगे।

खबरें और भी हैं...