CM चन्नी की पहली रैली:22 नवंबर को लुधियाना के आत्मनगर से बजेगा कांग्रेस का विधानसभा चुनाव का बिगुल; तैयारियां जारी

10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी। - Dainik Bhaskar
मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी।

पंजाब कांग्रेस ने भी विधानसभा चुनाव 2022 का बिगुल बजा दिया है। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी लुधियाना के आत्मनगर में पहली चुनावी रैली 22 नवंबर को करने जा रहे हैं। इससे पहले हरीश चौधरी लुधियाना का दौरा करके कांग्रेसियाें की नब्ज टटोल चुके हैं। चन्नी भी अब से पहले सरकार के कार्यक्रमों में ही संबोधन करते रहे हैं।

विधानसभा हलका आत्मनगर में हो रही यह रैली गिल रोड पर स्थित अनाज मंडी में होगी, जिसकी तैयारियां अभी से शुरू हो गई हैं। मंडी की साफ-सफाई करवाई जा रही है और अभी से सुरक्षा व्यवस्था भी कर दी गई है। पहले यह रैली आज यानि 20 नवंबर को होनी थी, मगर इसे टाल दिया गया और अब यह रैली 22 नवंबर को होने वाली है। पहली चुनावी रैली है तो इसमें भीड़ जुटाना बेहद जरूरी है, ताकि लोगों में प्रभाव उलट न पड़ जाए।

लुधियाना देहात नेताओं के साथ बैठक करते हुए हरीश चौधरी।
लुधियाना देहात नेताओं के साथ बैठक करते हुए हरीश चौधरी।

हरीश चौधरी कर चुके हैं शहरी और देहाती नेताओं से बैठकें

पंजाब मामलों के प्रभारी हरीश चौधरी दो दिन तक लुधियाना में रहे हैं। उनकी ओर से यहां के एक बड़े होटल में रात के समय सिटी और सुबह देहात के नेताओं के साथ बैठक की गई थी। कहा जा रहा है कि उनकी तरफ से सभी विधायकों और नेताओं को रैली को सफल बनाने के लिए हर तरह का प्रयास करने को कहा गया है। उनकी तरफ से विधायकों की ड्यूटियां भी लगाई जा रही हैं।

चुनाव प्रचार की शुरुआत के लिए लुधियाना अहम क्यों

लुधियाना क्षेत्रफल और विधानसभा क्षेत्र की सीटों को लेकर पंजाब का सबसे बड़ा जिला है। यहां पर 14 विधानसभा क्षेत्र हैं, जिनमें से 6 शहर और 12 देहात से संबंधित हैं। यहां पर कांग्रेस पहले से ही काफी मजबूत स्थिति में है। मगर कैप्टन अमरिंदर सिंह के कांग्रेस छोड़ने के बाद हालात बिगड़ सकते हैं। जिस कारण पार्टी की तरफ से यहां से ही अपना प्रचार शुरू किया जा रहा है। लगातार यह कहा जा रहा था कि कांग्रेस चुनाव प्रचार को लेकर पूरी तरह पिछड़ रही है और जबकि आम आदमी पार्टी, अकाली दल ने पहले से चुनाव प्रचार शुरू किया हुआ है और यहां तक कि दोनों दल टिकटें भी बांट चुके हैं।

सुखबीर बादल हैं पूरी तरह से सक्रिय

सुखबीर सिंह बादल लुधियाना में पिछले तीन माह से पूरी तरह सक्रिय हैं। वह माह में 4-5 चक्कर लगा रहे हैं। व्यापारियों से लेकर बड़े कारोबारियों से वह मीटिंग कर चुके हैं। इसके अलावा वह गुप चुप तरीके से भी मीटिंग कर रहे हैं। जिस कारण काफी अहम हो जाता है कि कांग्रेस यहां पर अपना जोर लगाए। वैसे भी सुखबीर सिंह बादल का जोर इस बार पूरी तरह से शहरी वोट बैंक पर लगा हुआ है।

खबरें और भी हैं...